30 June 2015

Lyrics Of "Teri Shame Mere Savere" From Movie - Tum Hi To Ho... (2011)

Teri Shame Mere Savere
Teri Shame Mere Savere
Lyrics Of Teri Shame Mere Savere From Movie - Tum Hi To Ho... (2011):  A Romantic song sung by Gayatri Ganjawala & Shaan and the Music has been composed by Ravi Chopra.

Singers: Gayatri Ganjawala, Shaan
Music: Anand Milind
Lyrics: Ravi Chopra
Star Cast: Madhavi Sharma, Jackie Shroff, Kishori Shahane, Sarvar Ahuja, Vishwajeet Pradhan, Vipinno




The Audio of this song is available on Youtube at the official Channel Downloadming. The Audio is of 4 minutes and 49 seconds.







Lyrics of "Teri Shame Mere Savere"



meri shaame mere savere ehsaan mand hai tere
teri aahat se roshan huwe hai mere tanhaiyo ke andhere
tere baare me socha hai jabse rubaru roz hota hun rab se

dil dhadakne laga nabz chalne lagi
ek nayi aarzu dil me palne lagi
keh rahi hai meri bekhudi
waar duu tujhpe main har khushi
dil dharakne laga nabz chalne lagi
ek nayi aarzu dil mein palne lagi
keh rahi hai meri bekhudi
waar duu tujhpe main har khushi
tere pehlu main bethun adab se
choom luu teri peshaani lab se

meri har baat me bas teri baat hai
khush naseebi meri tu mere saath hai
ishq ki yeh karamaat hai haath me ab tera haath hai
meri har baat me bas teri baat hai
khush naseebi meri tu mere saath hai
ishq ki yeh karamaat hai haath me ab tera haath hai
muntazir thi teri jaane kab se
tu juda hai zamaane me sabse
meri shaame mere savere ehsaan mand hai tere
teri aahat se roshan huwe hai meri tanhaiyo ke andhere
tere baare me socha hai jab se rubaru roz hoti hu rab se


Lyrics in Hindi (Unicode) of "तेरी शामे मेरे सवेरे"



मेरी शामे मेरे सवेरे एहसान मंद है तेरे
तेरी आहाट से रोशन हुए है मेरी तन्हाइयो के अँधेरे
तेरे बारे में सोचा है जबसे रुबरू रोज़ होता हूँ रब से

दिल धड़कने लगा नब्ज़ चलने लगी
एक नई आरजू दिल में पलने लगी
कह रही है मेरी बेखुदी
वार दूँ मै तुझपे हर ख़ुशी
दिल धड़कने लगा नब्ज़ चलने लगी
एक नई आरजू दिल में पलने लगी
कह रही है मेरी बेखुदी
वार दूँ मै तुझपे हर ख़ुशी
तेरे पहलु में बहती अदब है
चूम लूँ तेरी परेशानिया लैब से

मेरी हर बात में बस तेरी बात है
खुशनसीबी मेरी तू मेरे साथ है
इश्क की ये करामात है हाथ में अब तेरे हाथ है
मेरी हर बात में बस तेरी बात है
खुशनसीबी मेरी तू मेरे साथ है
इश्क की ये करामात है हाथ में अब तेरे हाथ है
मुन्तजिर थी तेरी जाने कब से
तू जुदा है ज़माने में सबसे
मेरी शामे मेरे सवेरे एहसान मंद है तेरे
तेरी आहाट से रोशन हुए है मेरी तन्हाइयो के अँधेरे
तेरे बारे में सोचा है जबसे रुबरू रोज़ होता हूँ रब से

No comments:

Post a comment