22 July 2015

Lyrics Of "Musical" From Movie - Calapor (2013)

Musical
Musical
Lyrics Of Musical From Movie - Calapor (2013): A dance song sung by Arjuna Harjai, Surabhi Dashputra, Aishwarya Nigam, Kashinath Kashyap, Lakshmi Madhusudan and lyrics penned by Sanjeev Chaturvedi.

Music: Arjuna Harjai
Star Cast: Rituparna Sengupta, Priyanshu Chatterjee, Raghuveer Yadav, Harsh Chhaya, Binny Sharma, Subbaraju, Aakash Sharma, Anjan Srivastava, Aziz Naseer.



The video of this song is available on youtube at the channel Worldwide Records INDIA. This video is of 1 minutes 49 seconds duration.


Lyrics of "Musical"


dhaal dharm ki misaal karm ki
nyaya ke dagar se na dar kabhi
satya pe chale sada garv karti hai praja
raja chandrachur tumsa naa koi dusra, naa koi dusra

kuchh dino se aa raha hai mann me suvichar
yogya patra dhundhu usko sopu rajyabhaar
putra to suputra hai phir aisa vichar kyun
putra ke hi haatho sopte naa rajyabhaar kyun
praja meri santaan hai praja ko mujhpe maan hai
putra naa hai yogya rani aapko bhi gyan hai
hai padosi rajya me ek shreshtha rajkumar
dheer hai wo veer hai karega wo praja se pyar

bijaliyo si hai kadak aapki nigaaho me
loh bhi pighalta hai aapki pujao me
rajpat dhundh hai banke aandhi chhat do
jo bhi banke aaye shish uska kaant do

jaisa bhi hai putra tu abhi mujhko pyara hai
maa ko dukh naa dena koi uska tu sahara hai
sahara hai sahara hai

ummid leke aayi hu aapki sharanya me
kar rahi hu vandana shree sant ke charan me
tu andhere raasto pe do jaalo ki kiran
aashish hai sabhi jiye ke shuddh ho ye tan mann
shadyantra ke is chaal ko tutne naa dunga main
buraai ki ho jai sada achchhai maar dunga main
ho chalo sambhaal lo talvaar dhaal lo
main banunga raja ab rajkumaar ko dunga jail
rajkumaar ko dunga jail

teri vandana jitni karu main kam hai
maa teri mamta ko shat shat naman hai
tu batati rahi raaste ye bure hai
magar main tha jiddi yu badhta raha
sambhala maa tune kayi baar
lekin main kitna bura tha behakta raha
kiye maaf tune gunah saare mere
phir bhi tujhe main samjh naa saka
hai ehsaas mujhko hai maa tu kya hai
hai dil tera sagar aanchal aasma hai
milta hai sab kuchh kho kar yaha pe
nahi milta tujhsa maa jami aasma par
tu dhup sardi ki tu pipal ki chhao
ab jaan paaya jo tu naa hai maa
kami teri rulayegi mujhe har ghadi
hai maa teri charano mein jannat padi
hai jannat padi, hai jannat padi, hai jannat padi

Lyrics in Hindi (Unicode) of "म्यूजिकल"


ढाल धर्म की मिसाल कर्म की
न्याय के डगर से ना डर कभी
सत्य पे चले सदा गर्व करती है प्रजा
राजा चंद्रचूर तुमसा ना कोई दूसरा, ना कोई दूसरा

कुछ दिनों से आ रहा है मन में सुविचार
योग्य पात्र ढूंढू उसको सोपू राज्यभार
पुत्र तो सुपुत्र है फिर ऐसा विचार क्यूँ
पुत्र के ही हाथो सोपते ना राज्यभार क्यूँ
प्रजा मेरी संतान है प्रजा को मुझपे मान है
पुत्र ना है योग्य रानी आपको भी ग्यान है
है पड़ोसी राज्य में एक श्रेष्ठ राजकुमार
धीर है वो वीर है करेगा वो प्रजा से प्यार

बिजलियों सी है कड़क आपकी निगाहों में
लोह भी पिघलता है आपकी पूजाओ में
राजपत धुंध है बनके आंधी छाट दो
जो भी बनके आये शीश उसका कांट दो

जैसा भी है पुत्र तू अभी मुझको प्यारा है
माँ को दुःख ना देना कोई उसका तू सहारा है
सहारा है सहारा है

उम्मीद लेके आयी हु आपकी शरन्य में
कर रही हु वंदना श्री संत के चरण में
तू अँधेरे रास्तो पे दो जालो की किरण
आशीष है सभी जिये के शुद्ध हो ये तन मन
षड़यंत्र के इस चाल को टूटने ना दूंगा मैं
बुराई की हो जय सदा अच्छाई मार दूंगा मैं
हो चलो संभाल लो तलवार ढाल लो
मैं बनूंगा राजा अब राजकुमार को दूंगा जेल
राजकुमार को दूंगा जेल

तेरी वंदना जितनी करू मैं कम है
माँ तेरी ममता को शत शत नमन है
तू बताती रही रास्ते ये बुरे है
मगर मैं था जिद्दी यु बढ़ता रहा
संभाला माँ तूने कयी बार
लेकिन मैं कितना बुरा था बहकता रहा
किये माफ़ तूने गुनाह सारे मेरे
फिर भी तुझे मैं समझ ना सका
है एहसास मुझको है माँ तू क्या है
है दिल तेरा सागर आँचल आसमा है
मिलता है सब कुछ खो कर यहाँ पे
नहीं मिलता तुझसा माँ जमी आसमा पर
तू धुप सर्दी की तू पीपल की छाओ
अब जान पाया जो तू ना है माँ
कमी तेरी रुलायेगी मुझे हर घडी
है माँ तेरी चरणों में जन्नत पड़ी
है जन्नत पड़ी, है जन्नत पड़ी, है जन्नत पड़ी

No comments:

Post a comment