28 June 2015

Lyrics Of "Kya Dekh Raha Hai" From Movie - 404 (2011)

Kya Dekh Raha Hai
Kya Dekh Raha Hai
Lyrics Of Kya Dekh Raha Hai From Movie - 404 (2011):  A Playful song  sung by Suman Sridhar Featuring Imaad Shah.

Singer: Suman Sridhar
Music: Imaad Shah
Lyrics: Imaad Shah
Star Cast: Rajvvir Aroraa, Imaad Shah, Satish Kaushik, Tisca Chopra, Nishikant Kamat





The Video of this song is available on Youtube at the official Channel Unisysmusic. The Video is of 1 minutes and 32 seconds duration.







Lyrics of "Kya Dekh Raha Hai"



jaan chirago se nikali thi ek ulti sidhi kahani
bechara majnu tha laila ne feka uspe kichad ka pani
tel futa tha aasman se barish giri thi mere pyaale me
char pardesho ki public ne cm ko tha ke feka naale me
aaye haye aaye jaye tu hoga apne gaav ka raja bhai
tod apne gum ka raza aaja mere bhai
par yaha apun ke raaj me jab tu aayega
hoga kahi ka sher par yaha ka hai chuha
kya dekh raha hai abe, kya dekh raha hai abe
kya dekh raha hai abe, kya dekh raha hai abe
kya dekh raha hai abe, kya dekh raha hai abe

in galiyo se nikla tha is gali ka raja
karli doctor baji bhul ja band baja
is dunia ke jo kisse hai
kafi lambe chode saro se gishe hai
bhul bhulaiya me kho gaye the
ab kahi se mil gaye
aaye haye aaye jaye tu hoga apne gaav ka raja bhai
tod apne gum ka raza aaja mere bhai
par yaha apun ke raaj me jab tu aayega
hoga kahi ka sher par yaha ka hai chuha
kya dekh raha hai abe, kya dekh raha hai abe
kya dekh raha hai abe, kya dekh raha hai abe
kya dekh raha hai abe, kya dekh raha hai abe

subah subah din tod ke jaago
beta munh dhoo, roti khaao kaam pe bhaago
rattate raho book ke panne, bada aaya doctor banne
waqt kya hai bas ek sidhi si jalti hui lakeer
pahaadiyo ke sone me is sheher ke kone me
rehne wala pagal fakeer
are ghum jaayega saala ghum jaayega
ghar ka raasta dhundte dhundte kho jayega
sahi salaamat hai par kuch bhi ho jayega
aaye haye aaye jaye tu hoga apne gaav ka raja bhai
tod apne gum ka raza aaja mere bhai
par yaha apun ke raaj me jab tu aayega
hoga kahi ka sher par yaha ka hai chuha
kya dekh raha hai abe, kya dekh raha hai abe
kya dekh raha hai abe, kya dekh raha hai abe
kya dekh raha hai abe, kya dekh raha hai abe


Lyrics in Hindi (Unicode) of "क्या देख रहा है"



जान चिरागों से निकलि थी हैं एक उलटी सीधी कहानी
बेचारा मजनू था लैला ने फेका उसपे कीचड का पानी
तेल फुटा ठा आसमान से बारिश गिरी थी मेरे प्याले में
चार परदेशो की पब्लिक ने सी एम् को था फेका पानी में
आये हाय आये जाए टू होगा अपने गाव का राजा भाई
पर यहाँ अपुन के राज़ में जब तू आयेगा
होगा कहीं का शेर पर यहाँ का हैं चूहा
क्या देख रहा हैं अबे, क्या देख रहा हैं अबे
क्या देख रहा हैं अबे, क्या देख रहा हैं अबे
क्या देख रहा हैं अबे, क्या देख रहा हैं अबे

इन गलियों से निकला था इस गली का राजा
करली डॉक्टर बाजी भूल जा बैंड बाजा
इस दुनिया के जो किस्से हैं
काफी लम्बे छोडे सारो से गिशे हिं
भूल भुलैया में खो गये थे अब कहीं से मिल गये
आये हाय आये जाए टू होगा अपने गाव का राजा भाई
पर यहाँ अपुन के राज़ में जब तू आयेगा
क्या देख रहा हैं अबे, क्या देख रहा हैं अबे
क्या देख रहा हैं अबे, क्या देख रहा हैं अबे
क्या देख रहा हैं अबे, क्या देख रहा हैं अबे

सुबह सुबह दिन तोड़ के जागो
बेटा मुंह धोओ, रोटी खाओ काम पे भागो
रटाते राहों बुक के पन्ने, बड़ा आया डॉक्टर बन्ने
वक्त क्या है बस एक सीधी सी जलती हुई लकीर
पहाडियों के सोने मे इस शेहर के कोने मे
रेहने वाला पागल फ़कीर
अरे घूम जायेगा साला घूम जाएगा
घर का रास्ता ढूंडते ढूंडते खो जायेगा
सही सलामत है पर कुछ भी हो जायेगा
आये हाय आये जाए टू होगा अपने गाव का राजा भाई
पर यहाँ अपुन के राज़ में जब तू आयेगा
क्या देख रहा हैं अबे, क्या देख रहा हैं अबे
क्या देख रहा हैं अबे, क्या देख रहा हैं अबे
क्या देख रहा हैं अबे, क्या देख रहा हैं अबे
 

No comments:

Post a comment