14 July 2015

Lyrics Of "Sab Ganya Ki Maaya Hai" From Movie - One Fine Monday (2010)

Sab Ganya Ki Maaya Hai
Sab Ganya Ki Maaya Hai
Lyrics Of Sab Ganya Ki Maaya Hai From Movie - One Fine Monday (2010): A rock song sung by Siddharth Shrivastav and lyrics penned by Manu Chobe.

Singer: Siddharth Shrivastav
Music: Siddharth Shrivastav
Lyrics: Manu Chobe
Star Cast: Shekhar Suman, Tanaz Currim, Gauri Karnik, Raj Zutshi, Himanshu Jhunjhunwala.




Lyrics of "Sab Ganya Ki Maaya Hai"


sab ganya ki maaya hai dhoop kahi kahin chhaaya hai
ek ruhaani saaya hai arre bhaago ganya aaya hai
sidhe ko ulta hi dekho ulta samajh toh aata hai
ulta samajh gaya jo aakhir wahi to sidha jaata hai
ulta sidha bhaad mein jhonko aur karo phir manmaani
goli maaro duniya ko tum bol gaye ganya swaami
sab ganya ki maaya hai dhoop kahi kahin chhaaya hai
ek ruhaani saaya hai arre bhaago ganya aaya hai

soch sochke samajh yeh jaao
sochke kuch nahi hota hai
sochke kuch nahi hota hai
bin soche jo kaam kare woh
bechke ghode sota hai, bechke ghode sota hai
sote sote sapne dekho sapno mein jeevan aabha
sapne hi to sach hote hai bol gaye ganya baaba
sab ganya ki maaya hai dhoop kahi kahin chhaaya hai
ek ruhaani saaya hai arre bhaago ganya aaya hai

life mein tension kyun lene ka
jine ka apni wat se, jine ka apni wat se
botal kholo glaas bharo
smile karo tum phir jhat se
smile karo tum phir jhat se
smile pe chhori pat jaayegi bajega dil ka har baaja
tension teri kat jaayegi bol gaye ganya raaja

sab ganya ki maaya hai dhoop kahi kahin chhaaya hai
ek ruhaani saaya hai arre bhaago ganya aaya hai
sidhe ko ulta hi dekho ulta samajh toh aata hai
ulta samajh gaya jo aakhir wahi to sidha jaata hai
ulta sidha bhaad mein jhonko aur karo phir manmaani
goli maaro duniya ko tum bol gaye ganya swaami
sab ganya ki maaya hai dhoop kahi kahin chhaaya hai
ek ruhaani saaya hai arre bhaago ganya aaya hai
sab ganya ki maaya hai dhoop kahi kahin chhaaya hai
ek ruhaani saaya hai arre bhaago ganya aaya hai


Lyrics in Hindi (Unicode) of "सब गन्या की माया है"



सब गन्या की माया है धूप कही कहीं छाया है
एक रूहानी साया है अरे भागो गन्या आया है
सीधे को उल्टा ही देखो उल्टा समझ तो आता है
उल्टा समझ गया जो आखिर वही तो सीधा जाता है
उल्टा सीधा भाड़ में झोंको और करो फिर मनमानी
गोली मारो दुनिया को तुम बोल गये गन्या स्वामी
सब गन्या की माया है धूप कही कहीं छाया है
एक रूहानी साया है अरे भागो गन्या आया है

सोच सोचके समझ ये जाओ
सोचके कुछ नही होता है
सोचके कुछ नही होता है
बिन सोचे जो काम करे वो
बेचके घोड़े सोता है, बेचके घोड़े सोता है
सोते सोते सपने देखों सपनों में जीवन आभा
सपने ही तो सच होते है बोल गये गन्या बाबा
सब गन्या की माया है धूप कही कहीं छाया है
एक रूहानी साया है अरे भागो गन्या आया है

लाइफ में टैंशन क्यों लेने का
जीने का अपनी वट से, जीने का अपनी वट से
बोतल खोलो ग्लास भरो
स्माइल करो तुम फिर झट से
स्माइल करो तुम फिर झट से
स्माइल पे छोरी पट जायेंगी बजेगा दिल का हर बाजा
टैंशन तेरी कट जायेगी बोल गये गन्या राजा

सब गन्या की माया है धूप कही कहीं छाया है
एक रूहानी साया है अरे भागो गन्या आया है
सीधे को उल्टा ही देखो उल्टा समझ तो आता है
उल्टा समझ गया जो आखिर वही तो सीधा जाता है
उल्टा सीधा भाड़ में झोंको और करो फिर मनमानी
गोली मारो दुनिया को तुम बोल गये गन्या स्वामी
सब गन्या की माया है धूप कही कहीं छाया है
एक रूहानी साया है अरे भागो गन्या आया है
सब गन्या की माया है धूप कही कहीं छाया है
एक रूहानी साया है अरे भागो गन्या आया है

No comments:

Post a comment