21 February 2016

Lyrics Of "Apne Apne Phanday (Title Song)" From Latest Movie - Apne Apne Phanday (2016)

Apne Apne Phanday (Title Song)
Apne Apne Phanday (Title Song)
A title song sung and composed by Shakti Saab while lyrics are penned by R. P. Chaudhary.

Singer: Shakti Saab
Music: Shakti Saab
Lyrics: R. P. Chaudhary
Star Cast: Nitin Chaudhary, Shubhankar Paul, Nitin Bhatia, Swapnil Joshi, Riya Adarkar, Humza Sabise, Ravi Pandey.



The video of this song is available on YouTube at the official channel YellowAndRedMusic. This video is of 4 minutes 45 seconds duration.

Lyrics of "Apne Apne Phanday (Title Song)"


tun tana re tun tana re tun tana
bheja saala baj raha hai tun tana
tun tana re tun tana re tun tana
bheja saala baj raha hai tun tana
kaun kehta hai saala daaru buri chiz hai
apne liye to saali sabse ajiz hai
pite subah sham saala sunday ho ya monday
apne apne phanday, sabke apne apne phanday
apne apne phanday, sabke apne apne phanday

desi whisky vodka jo mili so pi liya
tuti futi zindagi jo mili so ji liya
raat kaali kaali saali dass rahi hai naag si
bujhi bujhi zindagi jal rahi hai aag si
tension ko maar goli, chhod saare pange
apne apne phanday, sabke apne apne phanday
apne apne phanday, sabke apne apne phanday

koi saala aashiki me jaan de raha hai
koi saala aashiki me jaan le raha hai
le maar dum daba ke dhuye ko khinch andar
chhod lafda ladki ka, ban ja tu sikandar
ji le zindagi ho jaisi cricket ka one-day
apne apne phanday, sabke apne apne phanday

tun tana re tun tana re tun tana
bheja saala baj raha hai tun tana
tun tana re tun tana re tun tana
bheja saala baj raha hai tun tana


Lyrics in Hindi (Unicode) of "अपने अपने फंडे (टाइटल सोंग)"


टुन टना रे टुन टना रे टुन टना
भेजा साला बज रहा हैं टुन टना
टुन टना रे टुन टना रे टुन टना
भेजा साला बज रहा हैं टुन टना
कौन कहता हैं साला दारु बुरी चीज़ हैं
अपने लिए तो साली सबसे अजीज़ हैं
पीते सुबह शाम साला सन्डे हो या मंडे
अपने अपने फंडे, सबके अपने अपने फंडे
अपने अपने फंडे, सबके अपने अपने फंडे

देसी व्हिस्की वोडका जो मिली सो पि लिया
टूटी फूटी ज़िन्दगी जो मिली सो जी लिया
रात काली काली साली डस रही हैं नाग सी
बुझी बुझी ज़िन्दगी जल रही हैं आग सी
टेंशन को मार गोली, छोड़ सारे पंगे
अपने अपने फंडे, सबके अपने अपने फंडे
अपने अपने फंडे, सबके अपने अपने फंडे

कोई साला आशिकी में जान दे रहा हैं
कोई साला आशिकी में जान ले रहा हैं
ले मार दम दबा के धुएं को खिंच अन्दर
छोड़ लफड़ा लड़की का, बन जा तू सिकंदर
जी ले ज़िन्दगी हो जैसी क्रिकेट का वन-डे
अपने अपने फंडे, सबके अपने अपने फंडे

टुन टना रे टुन टना रे टुन टना
भेजा साला बज रहा हैं टुन टना
टुन टना रे टुन टना रे टुन टना
भेजा साला बज रहा हैं टुन टना

No comments:

Post a comment