24 February 2016

Lyrics Of "Ishq Me Hum Tere" From Movie - Bhadaas (2013)

Ishq Me Hum Tere
Ishq Me Hum Tere
A seductive song sung by Palak Muchha, music composed by Shabab Azmi and lyrics penned by Israr Ansari.

Singer: Palak Muchha
Music: Shabab Azmi
Lyrics: Israr Ansari
Star Cast: Meera, Aryeman Ramsay, Shree Rajput, Anant Mahadevan, Rudra Kaushik, Ashutosh Kaushik, Mohini Neelakanta, Mushtaq Khan.


The video of this song is available on youtube at the official channel Dhinchak Films. This video is of 4 minutes 14 seconds duration.

Lyrics of "Ishq Me Hum Tere"


ishk me hum tere is kadar kho rahe hai
ishk me hum tere is kadar kho rahe hai
dar hai na jaag jaye sare arman dil ke
dar hai na jaag jaye sare arman dil ke
chain se jo abhi jo abhi so rahe hai
ishk me hum tere is kadar kho rahe hai
ishk me hum tere is kadar kho rahe hai

jab bhi tu paas ho aisa ahsas ha
na hui jo kabhi kyu na vo baat ha
aur kab tak sahe dil ye tanhaiya
mere bas me nahi meri angadaiya
teri baho me aake khud ko mahfuj pake
teri baho me aake khud ko mahfuj pake
har nigaho se hum befikar ho rahe hai
ishk me hum tere is kadar kho rahe hai
ishk me hum tere is kadar kho rahe hai

tum meri ruh me yu utrne lage
sharam se tut ke hum bikharane lage
ye tere ishk ka jane kya hai asar
khud ka ab hosh hai na hi dil ki khabar
ek nasha sa najar me is tarah cha raha hai
ek nasha sa najar me is tarah cha raha hai
dub kar tujhme hi bas tere ho rahe hai
ishk me hum tere is kadar kho rahe hai
ishk me hum tere is kadar kho rahe hai 

Lyrics in Hindi (Unicode) of "इश्क में हम तेरे"


इश्क में हम तेरे इस कदर खों रहे है
इश्क में हम तेरे इस कदर खों रहे है
डर है ना जाग जाए सारे अरमान दिल के
डर है ना जाग जाए सारे अरमान दिल के
चैन से जों अभी जों अभी सो रहे है
इश्क में हम तेरे इस कदर खों रहे है
इश्क में हम तेरे इस कदर खों रहे है

जब भी तू पास हो ऐसा अहसास हाँ
ना हुई जों कभी क्यूँ ना वो बात हाँ
और कब तक सहे दिल ये तन्हाइयां
मेरे बस में नहीं मेरी अंगडाईयां
तेरी बाँहों में आके खुद को महफूज पाके
तेरी बाँहों में आके खुद को महफूज पाके
हर निगाहों से हम बेफिकर हो रहे है
इश्क में हम तेरे इस कदर खों रहे है
इश्क में हम तेरे इस कदर खों रहे है

तुम मेरी रूह में यूँ उतरने लगे
शर्म से टूट के हम बिखरने लगे
ये तेरे इश्क का जाने क्या है असर
खुद का अब होश है ना ही दिल की खबर
एक नशा सा नजर में इस तरह छा रहा है
एक नशा सा नजर में इस तरह छा रहा है
डूब कर तुझमे ही बस तेरे हो रहे है
इश्क में हम तेरे इस कदर खों रहे है
इश्क में हम तेरे इस कदर खों रहे है

No comments:

Post a comment