18 February 2016

Lyrics Of "Main Jahan Rahoon" From Mtv Unplugged 5 - Episode 06 (2016)

Main Jahan Rahoon
Main Jahan Rahoon
A playful song sung by Rahat Fateh Ali Khan featuring him in song video.

Singer: Rahat Fateh Ali Khan
Music: Himesh Reshammiya
Lyrics: Javed Akhtar
Features: Rahat Fateh Ali Khan.





The video of this song is available on YouTube at the official channel  MTV Unplugged. This video is of 6 minutes 51 seconds duration.

Lyrics of "Main Jahan Rahoon"


mai jaha rahu, mai kahi bhi hu teri yaad sath hai
kisi se kahu ke nahi kahu, yeh jo dil ki baat hai
mai jaha rahu, mai kahi bhi hu teri yaad sath hai
kisi se kahu ke nahi kahu, yeh jo dil ki baat hai
kehne ko saath apne ek duniya chalti hai
par chhupke iss dil me tanhaayi palti hai
bas yaad saath hai, teri yaad saath hai
teri yaad saath hai, teri yaad saath hai

kahi toh dil me yaado ki ek suli gad jaati hai
kahi har ek tasvir bahut hi dhundhli pad jaati hai
koyi nayi duniya ke naye rango me khush rehta hai
koyi sab kuchh paake bhi yeh man hi man kehta hai
kehne ko saath apne ek duniya chalti hai
par chhupke iss dil me tanhaayi palti hai
bas yaad saath hai, teri yaad saath hai
teri yaad saath hai, teri yaad saath hai

kahi toh bite kal ki jade dil me hi utar jaati hai
kahi jo dhage tute toh malaye bikhar jaati
koyi dil me jagah nayi baato ke liye rakhta hai
koyi apni palko pe yaado ke diye rakhta hai
kehne ko saath apne ek duniya chalti hai
par chhupke iss dil me tanhaayi palti hai
bas yaad saath hai, teri yaad saath hai
teri yaad saath hai, teri yaad saath hai

Lyrics in Hindi (Unicode) of "मैं जहा रहूँ"


मैं जहा रहूँ, मैं कही भी हूँ तेरी याद साथ हैं
किसी से कहू के नहीं कहू, ये जो दिल की बात हैं
मैं जहा रहूँ, मैं कही भी हूँ तेरी याद साथ हैं
किसी से कहू के नहीं कहू, ये जो दिल की बात हैं
कहने को साथ अपने एक दुनिया चलती हैं
पर छुपके इस दिल मे तन्हाई पलती हैं
बस यद् साथ हैं, तेरी याद साथ हैं
तेरी याद साथ हैं, तेरी याद साथ हैं

कही तो दिल मे यादो की एक सूली गड जाती हैं
कही हर एक तस्वीर बहुत ही धुंधली पड जाती हैं
कोई नहीं दुनिया के नए रंगों मे खुश रहता हैं
कोई सब कुछ पाके भी ये मन ही मन कहता हैं
कहने को साथ अपने एक दुनिया चलती हैं
पर छुपके इस दिल मे तन्हाई पलती हैं
बस यद् साथ हैं, तेरी याद साथ हैं
तेरी याद साथ हैं, तेरी याद साथ हैं

कही तो बीते कल की जड़े दिल मे ही उतर जाती हैं
कही जो धागे टूटे तो मालाए बिखर जाती हैं
कोई दिल मे जगह नई बातों के लिए रखता हैं
कोई अपनी पलकों पे यादो के दिए रखता हैं
कहने को साथ अपने एक दुनिया चलती हैं
पर छुपके इस दिल मे तन्हाई पलती हैं
बस यद् साथ हैं, तेरी याद साथ हैं
तेरी याद साथ हैं, तेरी याद साथ हैं

No comments:

Post a comment