23 March 2016

Lyrics Of "Kitno Ka Dil Tuta Hai" From Movie - Four Two Ka One (2012)

Kitno Ka Dil Tuta Hai
Kitno Ka Dil Tuta Hai
A sad love song in the voice of Krishna featuring Jimmy Shergil, Rajpal Yadav, Nikita Anand.

Singer: Krishna
Music: Abhishek Majumdar
Lyrics: Anwar Khan
Star Cast: Jimmy Shergil, Rajpal Yadav, Nikita Anand, Sushant Singh, Murli Sharma, Kurush Deboo.




Lyrics of "Kitno Ka Dil Tuta Hai"



kitno ka dil tuta hai
ye pyar wafa sab jutha hai
banjar ho gayi dil ki jami
banjar ho gayi dil ki jami
banjar ho gayi dil ki jami
ishq ne jab bhi luta hai
o ishq ne jab bhi luta hai
kitno ka dil tuta hai
ye pyar wafa sab jutha hai

dil jiski ibadat karta hai wahi dil pe qayamat dhatha hai
o dil jiski ibadat karta hai wahi dil pe qayamat dhatha hai
karta hai sitam deta hai alam phir bhi wahi jee ko bhata hai
dard-e-jigar aankho ki nami
har lamha lage hai koi kami
banjar ho gayi dil ki jami
banjar ho gayi dil ki jami
banjar ho gayi dil ki jami
ishq ne jab bhi luta hai
o ishq ne jab bhi luta hai

tanhai se harpal milke gale teri yaado me dil roya hai
tanhai se harpal milke gale teri yaado me dil roya hai
mil paya kabhi na phir wo sukun teri furkat me jo khoya hai
baki na rahi ummed kahin
khud katal huye kaatil bi humi
banjar ho gayi dil ki jami
banjar ho gayi dil ki jami
banjar ho gayi dil ki jami
ishq ne jab bhi luta hai
o ishq ne jab bhi luta hai
kitno ka dil tuta hai
ye pyar wafa sab jutha hai
kitno ka dil tuta hai 


Lyrics in Hindi (Unicode) of "कितनो का दिल टूटा हैं " 


कितनो का दिल टूटा हैं
ये प्यार वफ़ा सब झूठा हैं
बंजर हो गई दिल की जमीं
बंजर हो गई दिल की जमीं
बंजर हो गई दिल की जमीं
इश्क ने जब भी लूटा हैं
ओ इश्क ने जब भी लूटा हैं
कितनो का दिल टूटा हैं
ये प्यार वफ़ा सब झूठा हैं

दिल जिसकी इबादत करता हैं वही दिल पे क़यामत ढाता हैं
ओ दिल जिसकी इबादत करता हैं वही दिल पे क़यामत ढाता हैं
करता हैं सितम देता हैं अलम फिर भी वही जी को भाता हैं
दर्द-ए-जिगर आँखों की नमी
हर लम्हा लगे हैं कोई कमी
बंजर हो गई दिल की जमीं
बंजर हो गई दिल की जमीं
बंजर हो गई दिल की जमीं
इश्क ने जब भी लूटा हैं
ओ इश्क ने जब भी लूटा हैं

तन्हाई से हरपल मिलके गले तेरी यादों में दिल रोया हैं
तन्हाई से हरपल मिलके गले तेरी यादों में दिल रोया हैं
मिल पाया कभी ना फिर वो सुकून तेरी फुर्कत में जो खोया हैं
बाकी ना रही उम्मीद कहीं
खुद कतल हुए कातिल भी हमी
बंजर हो गई दिल की जमीं
बंजर हो गई दिल की जमीं
बंजर हो गई दिल की जमीं
इश्क ने जब भी लूटा हैं
ओ इश्क ने जब भी लूटा हैं
कितनो का दिल टूटा हैं
ये प्यार वफ़ा सब झूठा हैं
कितनो का दिल टूटा हैं

No comments:

Post a comment