7 March 2016

Lyrics Of "Tu Dua Hai" From Latest Album - Tu Dua Hai (2016)

Tu Dua Hai
Tu Dua Hai
Nice romantic song in the voice of Darshan Raval featuring him in song video.

Singer: Darshan Raval
Music: Rahul Munjariya
Lyrics: Darshan Raval
Features: Darshan Raval





The video of this song is available on YouTube at the channel DarshanRavalDZ. This video is of 3 minutes 41 seconds duration.

Lyrics of "Tu Dua Hai"


ruhaani si ik shaam hogi, halki teri usme aawaaz hogi
ruhaani si ik shaam hogi, halki teri usme aawaaz ho
tu naa jaaye kabhi aitbaar karu
tu naa jaaye kabhi khuda se ye hi kahu
main jo bhi hu jaisa hu, tujhme rehta khota hu
tu mera aaj hai, mera kal hai, meri zindagi ki dua
main jo bhi hu jaisa hu, tujhme rehta khota hu
tu mera aaj hai, mera kal hai, meri zindagi ki dua
tu dua hai, tu hi hai mera karam
tujhpe hi shuru, tujhpe hi khatam
tu dua hai, tu hi hai mera karam
tujhpe hi shuru, tujhpe hi khatam

shehro me galiyo me, apno me parayo me dhundha tujhe hai
shehro me galiyo me, apno me parayo me dhundha tujhe ke
mil jaaye mujhe tu kahi rubru, tu hi dikhe mai jaha rahu
main jo bhi hu jaisa hu, tujhme rehta khota hu
tu mera aaj hai, mera kal hai, meri zindagi ki dua
main jo bhi hu jaisa hu, tujhme rehta khota hu
tu mera aaj hai, mera kal hai, meri zindagi ki dua
tu dua hai, tu hi hai mera karam
tujhpe hi shuru, tujhpe hi khatam
tu dua hai, tu hi hai mera karam
tujhpe hi shuru, tujhpe hi khatam


Lyrics in Hindi (Unicode) of "तू दुआ हैं"


रूहानी सी इक शाम होगी, हलकी तेरी उसमे आवाज़ होगी
रूहानी सी इक शाम होगी, हलकी तेरी उसमे आवाज़ हो
तू ना जाए कभी ऐतबार करू
तू ना जाए कभी खुदा से ये ही कहूं
मैं जो भी हूँ जैसा हूँ, तुझमे रहता खोता हूँ
तू मेरा आज हैं, मेरा कल हैं, मेरी ज़िन्दगी की दुआ
मैं जो भी हूँ जैसा हूँ, तुझमे रहता खोता हूँ
तू मेरा आज हैं, मेरा कल हैं, मेरी ज़िन्दगी की दुआ
तू दुआ हैं, तू ही हैं मेरा करम
तुझपे ही शुरू, तुझपे ही ख़तम
तू दुआ हैं, तू ही हैं मेरा करम
तुझपे ही शुरू, तुझपे ही ख़तम

शेहरो में गलियों में, अपनों में परायो में ढूंढा तुझे हैं
शेहरो में गलियों में, अपनों में परायो में ढूंढा तुझे के
मिल जाए मुझे तू कही रूबरू, तू ही दिखे मैं जहा रहू
मैं जो भी हूँ जैसा हूँ, तुझमे रहता खोता हूँ
तू मेरा आज हैं, मेरा कल हैं, मेरी ज़िन्दगी की दुआ
मैं जो भी हूँ जैसा हूँ, तुझमे रहता खोता हूँ
तू मेरा आज हैं, मेरा कल हैं, मेरी ज़िन्दगी की दुआ
तू दुआ हैं, तू ही हैं मेरा करम
तुझपे ही शुरू, तुझपे ही ख़तम
तू दुआ हैं, तू ही हैं मेरा करम
तुझपे ही शुरू, तुझपे ही ख़तम

No comments:

Post a comment