24 June 2016

Lyrics Of "Chal Chalein" From Latest Movie - Dhanak (2016)

Chal Chalein
Chal Chalein
A playful song sung by Papon, Vibha Saraf, Shivam Pathak featuring Krrish Chhabria, Hetal Gada.

Singer: Papon, Vibha Saraf, Shivam Pathak
Music: Tapas Relia
Lyrics: Mir Ali Husain
Star Cast: Hetal Gada, Krrish Chhabria, Rajiv Lakshman, Vipin Sharma, Flora Saini.




The video of this song is available on YouTube at the official channel Times Music. This video is of 1 minutes 58 seconds duration.

Lyrics of "Chal Chalein"


anjaan hawao ki, ghatao ki, fizao ki, ye kaisi sham hai
gham ke ye saye jo hai chaye aur lehraye, ye unka kya anjam hai
ho kisne dekha hai, kal tu ab sambhal
aur sunle kya kehta ye pal
kehta hai aaj tu kar aarzu, aur khud apni kismat ko badal
takdeer badal
chal chale chal pade, ek nayi kahani hum likhe mil kar
chal chale chal pade, iss raat ki bhi hogi ek seher

ye man me khayal re sawal karta hai
ho jab ye gaanth aur suraj hamare
dil ka jo saaz hai, awaz hai, andaz hai, hum usko jaan le
wo jo sunata hai, dohrata hai aur gata hai hum usko maan le
ho duniya me aaye hai, dil paye hai, apni marzi se kyu na jee le
kese jhuk jaye hum ruk jaye, hum manzil ko tu baki hai mile
baki hai mile
chal chale chal pade, ek nayi kahani hum likhe mil kar
chal chale chal pade, iss raat ki bhi hogi ek seher

aao naye duniya main, aajao dekho ye kitni haseen
yaha khushiyo ke andaz nirale aangan aangan
yaha hasrat bhi dil khool ke dekho, nachee chan chan chan
ho sath mile tera to chamkegi fir kismat hamari
hath thame tera, to badalegi fir duniya sari
apne hatho se kyu na likhe, kyu na likhe
apne dil ka hum fasana, lakh roke ye zamana
chal chale chal pade, ek nayi kahani hum likhe mil kar
chal chale chal pade, iss raat ki bhi hogi ek seher
chal chale chal pade, ek nayi kahani hum likhe mil kar
har nagar har dagar, har raste ke hum hai humsafar


Lyrics in Hindi (Unicode) of "चल चले"


अनजान हवाओ की, घटाओ की, फिज़ाओ की, ये कैसी शाम है
ग़म के ये साये जो है छाए और लहराए, ये उनका क्या अंजाम है
हो किसने देखा है, कल तू अब संभाल
और सुनले क्या कहता ये पल
कहता है आज तू कर आरजू, और खुद अपनी किस्मत को बदल
तकदीर बदल
चल चले चल पड़े, एक नयी कहानी हम लिखे मिल कर
चल  चले चल पड़े, इस रात की भी होगी एक सेहर

ये मन में ख्याल रे सवाल करता है
हो जब ये गाँठ और सूरज हमारे
दिल का जो साज़ है, आवाज़ है, अंदाज़ है, हम उसको जान ले
वो जो सुनाता है, दोहराता है और गाता है हम उसको मान ले
हो दुनिया में आये है, दिल पाए है, अपनी मर्ज़ी से क्यों ना  जी ले
कैसे झुक जाये हम रुक जाए, हम मंजिल को तू बाकी है मिले
बाकी है मिले
चल चले चल पड़े, एक नयी कहानी हम लिखे मिल कर
चल  चले चल पड़े, इस रात की भी होगी एक सेहर

आओ नए दुनिया मैं, आजाओ देखो ये कितनी हसीं
यहाँ खुशियों के अंदाज़ निराले आँगन आँगन
यहाँ हसरत भी दिल दिल खुल के देखो, नाची छन छन छन
हो साथ मिले तेरा तो चमकेगी फिर किस्मत हमारी
हाथ थमे तेरा, तो बदलेगी फिर दुनिया सारी
अपने हाथो से क्यों लिखे, क्यों ना लिखे
अपने दिल का हम फ़साना, लाख रोके ये ज़माना
चल चले चल पड़े, एक नयी कहानी हम लिखे मिल कर
चल चले चल पड़े, इस रात की भी होगी एक सेहर
चल चले चल पड़े, एक नयी कहानी हम लिखे मिल कर
हर नगर हर डगर, हर रस्ते के हम है हमसफ़र

No comments:

Post a comment