6 July 2016

Lyrics Of "Dosti Ke Par" From Latest Album - Dosti Ke Par (2016)

Dosti Ke Par
Dosti Ke Par
A peppy friendship song sung and composed by Rushil and Arjan.

Singer: Rushil, Arjan
Music: Rushil, Arjan
Lyrics: Arjan
Features: Rushil, Arjan






The video of this song is available on YouTube at the official channel unisysmusic. This video is of 4 minutes 48 seconds duration.

Lyrics of "Dosti Ke Par"


ho chale aao ud chale yaado ke aasmano me
hai lage mujhe aaj dosti ke par
subah se ab jo sham chali hai, main sochta raha din bhar
ki kaise katenge yaaro bin mere din ke wo saare pahar
hasna, hasana pal me ruth jana
ruth ke kisi se galiya sunana or kehna
aisi ki taisi saale teri
ho aur sham ko phir beth ke jam do lagana
kehna bhai sorry galti ki maine mana
ab jaane do bato ko dil se na yu tu laga
chale aao ud chale yaado ke aasmano me
hai lage mujhe aaj dosti ke par
chale aao ud chale yaado ke aasmano me
hai lage mujhe aaj dosti ke par
to ud ja chal tu, to ud ja chal tu

chhat par beth kar jaane kitni raate humne bitai hongi
aur nashe me na jaane dil ki kitni baate
yaaro ko bataayi hongi
college ki girls ko check out karna
koi jo hans de to josh me ye kehna
ke beta sun lo bhabhi hai wo teri
aur char din baad hi breakup ka hona
raat bhar yaaro ke kandho pe rona or kehna
ab na banaaunga girlfriend kabhi

us breakup ke gam me classo ko bunk karna
ghar jo pahuchi attendance to papa se galiya suna
aur kehna dosto ko ki mil jayegi koi aur
par dil ko aaj bas chahiye dosti ka wo daur
phir kar lo aaj shaitaniya aur mastiya din bhar
hai lage mujhe aaj dosti ke par
dosti ke par to ud ja chal, ho to ud ja chal
dosti ke par ho to ud ja chal


Lyrics in Hindi (Unicode) of "दोस्ती के पर"


हो चले आओ उड़ चले यादो के आसमानों में
है लगे मुझे आज दोस्ती के पर
सुबह से अब जो शाम चली है, मैं सोचता रहा दिन भर
की कैसे कटेंगे यारो बिन मेरे दिन के वो सारे पहर
हसना, हसाना पल में रूठ जाना
रूठ के किसी से गालिया सुनाना और कहना
ऐसी की तैसी साले तेरी
हो और शाम को फिर बैठ के जाम दो लगाना
कहना भाई सॉरी गलती की मैंने माना
अब जाने दो बातो को दिल से ना यु तू लगा
चले आओ उड़ चले यादो के आसमानों में
है लगे मुझे आज दोस्ती के पर
चले आओ उड़ चले यादो के आसमानों में
है लगे मुझे आज दोस्ती के पर
तो उड जा चल तू, तो उडा जा चल तू

छत पर बेठ कर जाने कितनी राते हमने बिताई होंगी
और नशे में ना जाने दिल की कितनी बाते
यारो को बताई होंगी
कॉलेज की गर्ल्स को चेक आउट करना
कोई जो हंस दे तो जोश में ये केहना
के बेटा सुन लो भाभी है वो तेरी
और चार दिन बाद ही ब्रेकअप का होना
रात भर यारो के कंधो पे रोना और केहना
अब ना बनाऊंगा गर्लफ्रेंड कभी

उस ब्रेकअप के गम में क्लासो को बंक करना
घर जो पहुची अटेंडेंस तो पापा से गालिया सुना
और केहना दोस्तों को की मिल जाएगी कोई और
पर दिल को आज बस चाहिए दोस्ती का वो दौर
फिर कर लो आज सैतानिया और मस्तिया दिन भर
है लगे मुझे आज दोस्ती के पर
दोस्ती के पर तो उडा जा चल, हो तो उडा जा चल
दोस्ती के पर हो तो उडा जा चल

No comments:

Post a comment