3 August 2016

Lyrics Of "Andaaz E Bayaan" From Latest Album - Andaaz E Bayaan (2016)

Andaaz E Bayaan
Andaaz E Bayaan
Beautiful love song in the voice of Vineet Dhingra starring him and Romika Sharma.

Singer: Vineet Dhingra
Music: Raaj Aashoo
Lyrics: Krishan Bhardwaj
Features: Romika Sharma, Vineet Dhingra





The video of this song is available on YouTube at the channel Vineet Dhingra Music. This video is of 4 minutes 52 seconds duration.

Lyrics of "Andaaz E Bayaan"


lafz nahi hai mere paas
lafz nahi hai mere paas
andaaz-e-bayan kya karu tera o mere yaar
andaaz-e-bayan kya karu tera o mere yaar
mai tum aur fursat ki ye raat
mai tum aur fursat ki ye raat
adhuri na reh jaaye koi apne dil ki baat
adhuri na reh jaaye koi apne dil ki baat
lafz nahi hai mere paas

dhadkan yahi thi meri, saanse yahi thi
lekin zubaan pe aisi baate nahi thi
dhadkan yahi thi meri, saanse yahi thi
lekin zubaan pe aisi baate nahi thi
dil bhi yahi tha mera, aankhe yahi thi
lekin khwabo se bhari raate nahi thi
badla hua hai ehsaas, badla hua hai ehsaas
andaaz-e-bayan kya karu tera o mere yaar
andaaz-e-bayan kya karu tera o mere yaar

tu jo mili to mile jine ke maayne
rehne lage hai mere hontho pe taraane
raate hoti hai tere khwabo se roshan
aati hai subah teri khushbu jagaane
mehki hai aati jaati saans
mehki hai aati jaati saans
andaaz-e-bayan kya karu tera o mere yaar
andaaz-e-bayan kya karu tera o mere yaar
ishq me hone do dil rubaru
isharo isharo me baat ho, baat ho
lafz nahi hai mere paas
lafz nahi hai mere paas
andaaz-e-bayan kya karu tera o mere yaar


Lyrics in Hindi (Unicode) of "अंदाज़-ए-बयान"


लफ्ज़ नहीं हैं मेरे पास
लफ्ज़ नहीं हैं मेरे पास
अंदाज़-ए-बयान क्या करू तेरा ओ मेरे यार
अंदाज़-ए-बयान क्या करू तेरा ओ मेरे यार
मैं तुम और फुरसत की ये रात
मैं तुम और फुरसत की ये रात
अधूरी ना रह जाए कोई अपने दिल की बात
अधूरी ना रह जाए कोई अपने दिल की बात
लफ्ज़ नहीं हैं मेरे पास

धड़कन यही थी मेरी, साँसे यही थी
लेकिन जुबान पे ऐसी बाते नहीं थी
धड़कन यही थी मेरी, साँसे यही थी
लेकिन जुबान पे ऐसी बाते नहीं थी
दिल भी यही था मेरा, आँखे यही थी
लेकिन ख्वाबो से भरी राते नहीं थी
बदला हुआ हैं एहसास, बदला हुआ हैं एहसास
अंदाज़-ए-बयान क्या करू तेरा ओ मेरे यार
अंदाज़-ए-बयान क्या करू तेरा ओ मेरे यार

तू जो मिली तो मिले जीने के मायने
रहने लगे हैं मेरे होंठो पे तराने
राते होती हैं तेरे ख्वाबो से रोशन
आती हैं सुबह तेरी खुशबु जगाने
महकी हैं आती जाती सांस
महकी हैं आती जाती सांस
अंदाज़-ए-बयान क्या करू तेरा ओ मेरे यार
अंदाज़-ए-बयान क्या करू तेरा ओ मेरे यार
इश्क में होने दो दिल रूबरू
इशारो इशारो में बात हो, बात हो
लफ्ज़ नहीं हैं मेरे पास
लफ्ज़ नहीं हैं मेरे पास
अंदाज़-ए-बयान क्या करू तेरा ओ मेरे यार

No comments:

Post a comment