29 June 2015

Lyrics Of "Kyun Maang Yeh Khaali Hai" From Movie - Ek Second Jo Zindagi Badal De (2010)

Kyun Maang Yeh Khaali Hai
Kyun Maang Yeh Khaali Hai
Lyrics Of Kyun Maang Yeh Khaali Hai From Movie - Ek Second Jo Zindagi Badal De (2010): Nice romantic song sung by Shaan, Alka Yagnik & music composed by Anand Raj Anand, Gulam Khan.

Singer: Shaan, Alka Yagnik
Music: Anand Raj Anand, Gulam Khan
Lyrics: Pradeep Chaudhary
Star Cast: Manisha Koirala, Jackie Shroff, Nikita Anand, Muammar Rana, Rozza Catalano, Agastyaa Singh



Lyrics of "Kyun Maang Yeh Khaali Hai"


kyun maang yeh khaali hai bas tere liye
kyun suni kalaayi hai bas tere liye
na aankhon mein kaajal na pairon mein paayal
na pairon mein paayal na aankhon mein kaajal
haalat kya bana li hai bas tere liye
kyun maang yeh khaali hai bas tere liye

uski raahon mein duniya ne kaante bichhaye  hai
jisne bhi pyaarwaale sapne sajaaye hai
jaise suraj chaand gagan me ugte dhalte aaye hai
waise hi pyaar karane waale milte aaye hai
sach bolo na sach bol diya
yun dolo na mann dol gaya
kyun ungli khaali hai bas tere liye
na mundri daali hai bas tere liye
na aankhon mein kaajal na pairon mein paayal
na pairon mein paayal na aankhon mein kaajal
haalat kya bana li hai bas tere liye
kyun maang yeh khaali hai bas tere liye

na karna aisa waada na khaana aisi kasamein
jinko nibhana ho mushkil jo ho na hamare bas me
ha ji ha maalum hai yeh hai maalum duniya ki rasme
tute dilo ke na bandhan tute na chaahat ki kasme
sach bolo na sach bol diya
yun dolo na mann dol gaya
har ada niraali hai bas tere liye
har cheej sambhaali hai bas tere liye
na aankhon mein kaajal na pairon mein paayal
na pairon mein paayal na aankhon mein kaajal
haalat kya bana li hai bas tere liye
kyun maang yeh khaali hai bas tere liye
la la la la la bas mere liye


Lyrics in Hindi (Unicode) of "क्यों मांग ये खाली है"


क्यों मांग ये खाली है बस तेरे लिए
क्यों सूनी कलाई है बस तेरे लिए
ना आँखों में काजल ना पैरों में पायल
ना पैरों में पायल ना आँखों में काजल
हालत क्या बना ली है बस तेरे लिए
क्यों मांग ये खाली है बस तेरे लिए

उसकी राहों में दुनिया ने काँटे बिछाए है
जिसने भी प्यारवाले सपने सजाये है
जैसे सूरज चाँद गगन में उगते ढलते आए है
वैसे ही प्यार करने वाले मिलते आए है
सच बोलो ना सच बोल दिया
यूँ डोलो ना मन डोल गया
क्यों ऊँगली खाली है बस तेरे लिए
ना मुंदरी डाली है बस तेरे लिए
ना आँखों में काजल ना पैरों में पायल
ना पैरों में पायल ना आँखों में काजल
हालत क्या बना ली है बस तेरे लिए
क्यों मांग ये खाली है बस तेरे लिए

ना करना ऐसा वादा ना खाना ऐसी कसमें
जिनको निभाना हो मुश्किल जो हो ना हमारे बस में
हाँ जी हाँ मालूम है ये है मालूम दुनिया की रस्में
टूटे दिलों के ना बंधन टूटे ना चाहत की कसमें
सच बोलो ना सच बोल दिया
यूँ डोलो ना मन डोल गया
हर अदा निराली है बस तेरे लिए
हर चीज़ संभाली है बस तेरे लिए
ना आँखों में काजल ना पैरों में पायल
ना पैरों में पायल ना आँखों में काजल
हालत क्या बना ली है बस तेरे लिए
क्यों मांग ये खाली है बस तेरे लिए
ला ला ला ला ला बस मेरे लिए

No comments:

Post a comment