14 July 2015

Lyrics Of "Aankhein Tumhaari Sab Keh Rahi Hai" From Movie - Marega Salaa (2010)

Aankhein Tumhaari Sab Keh Rahi Hai
Aankhein Tumhaari Sab Keh Rahi Hai
Lyrics Of Aankhein Tumhaari Sab Keh Rahi Hai From Movie - Marega Salaa (2010): Nice romantic song sung by Shreya Ghoshal, Sonu Nigam and music composed by Daboo Malik.

Singer: Shreya Ghoshal, Sonu Nigam
Music: Daboo Malik
Lyrics: Praveen Bhardwaj
Star Cast: Jimmy Sheirgill, Kim Sharma, Hrishita Bhatt, Rahul Handa, Rajit Kapoor, Mahek Chhal, Rakhi Sawant.



Lyrics of "Aankhein Tumhaari Sab Keh Rahi Hai"


aankhe tumhari sab keh rahi hai
chehara tumhara sab keh raha hai
tum kuchh kaho ya kuchh na kaho
saanse tumhari sab keh rahi hai
aankhe tumhari sab keh rahi hai
chehara tumhara sab keh raha hai

samne ho mere tum phir bhi intjar hai
chain mil raha hai thoda dil bekarar hai
dekho na ye dil mera dhadake hi ja raha
ik ajnabi se milke tadape hi ja raha
uljhan hamari sab keh rahi hai
tadpan tumhari sab keh rahi hai
tum kuchh kaho ya kuchh na kaho
dhadkan tumhari sab keh rahi hai
aankhe tumhari sab keh rahi hai
chehara tumhara sab keh raha hai

hum to chale hai yuhi manjil ki baaho me
hamko khabar nahi kya ho inn raaho me
ho khoyi khoyi aankho me khoye khoye khwab hai
na kuchh sawal hai, na kuchh jawab hai
khamoshiya abb sab keh rahi hai
sarghosiya abb sab keh rahi hai
tum kuchh kaho ya kuchh na kaho
madhoshiya abb sab keh rahi hai
aankhe tumhari sab keh rahi hai
chehara tumhara sab keh raha hai


Lyrics in Hindi (Unicode) of "आँखे तुम्हारी सब कह रही है"



आँखे तुम्हारी सब कह रही है
चेहरा तुम्हारा सब कह रहा हैं
तुम कुछ कहो या कुछ ना कहो
सांसे तुम्हारी सब कह रही है
आँखे तुम्हारी सब कह रही है
चेहरा तुम्हारा सब कह रहा हैं

सामने हो मेरे तुम फिर भी इन्तेजार हैं
चैन मिल रहा है थोडा दिल बेक़रार हैं
देखो ना ये दिल मेरा धड़कन ही जा रहा
इक अजनबी से मिलके तडपे ही जा रहा
उलझन हमारी सब कह रही हैं
तडपन तुम्हारी सब कह रही हैं
तुम कुछ कहो या कुछ ना कहो
धड़कन तुम्हारी सब कह रही है
आँखे तुम्हारी सब कह रही है
चेहरा तुम्हारा सब कह रहा हैं

हम तो चले हैं यूँही मंजिल की बाहों में
हमको खबर नहीं क्या हो इन राहो में
हो खोयी खोयी आँखों में खोये खोये ख्वाब है
ना कुछ सवाल हैं, ना कुछ जवाब हैं
खामोशिया अब सब कह रही हैं
सरगोशिया अब सब कह रही हैं
तुम कुछ कहो या कुछ ना कहो
मदहोसिया अब सब कह रही है
आँखे तुम्हारी सब कह रही है
चेहरा तुम्हारा सब कह रहा हैं

No comments:

Post a comment