3 July 2015

Lyrics Of "Kitane Hai Signal" From Movie - Ishq Ho Gaya Mamu (2010)

Kitane Hai Signal
Kitane Hai Signal
Lyrics Of Kitane Hai Signal From Movie - Ishq Ho Gaya Mamu (2010): A playful song sung by Amit Kumar & music composed by Altamash Khan.
Singer: Amit Kumar
Music: Altamash Khan
Lyrics: Gazi Khan Barna
Star Cast:  Pratima Kazmi, Rajesh Vivek, Mushtaq Khan, Upasna Singh, Nasir Kazi, Meenu Bharadwaj, Abid Khan, Avtar Gill




Lyrics of "Kitane Hai Signal"


kitane hai signal, kitane hai speed breaker
iss traffic mein hum jaayenge kidhar
kitane hai signal, kitane hai speed breaker
iss traffic mein hum jaayenge kidhar
agar hum kahin pahunch bhi gaye to
kaun milega hamse dil khol kar
kitane hai signal, kitane hai speed breaker

har shaks hai paise ka pujaari
mercidies hai to chaahiye ferrari
la ilaj hai yeh bimari
daulatmand bhi lage hai bhikari
latest ho mobile designer ho kapde
show off mein hai saara sheher
agar hum kahin pahunch bhi gaye to
kaun milega hamse dil khol kar
kitane hai signal, kitane hai speed breaker
iss traffic mein hum jaayenge kidhar

dil mein jalan lab pe muskuraahat
iss jahan mein hai kitni banavat
har rishte mein aayi giraavat
ab to mohabbat mein bhi hai milavat
ghate ka sab sauda hai yeh
gam kharid rahe hai khushiya bechkar
agar hum kahin pahunch bhi gaye to
kaun milega hamse dil khol kar
kitane hai signal, kitane hai speed breaker
iss traffic mein hum jayenge kidhar
kitane hai signal, kitane hai speed breaker
iss traffic mein hum jaayenge kidhar


Lyrics in Hindi (Unicode) of "कितने हैं सिग्नल"


कितने हैं सिग्नल, कितने हैं स्पीड ब्रेकर
इस ट्रैफिक में हम जायेंगे किधर
कितने हैं सिग्नल, कितने हैं स्पीड ब्रेकर
इस ट्रैफिक में हम जायेंगे किधर
अगर हम कहीं पहुँच भी गये तो
कौन मिलेगा हमसे दिल खोल कर
कितने हैं सिग्नल, कितने हैं स्पीड ब्रेकर

हर शक्स हैं पैसे का पुजारी
मर्सिडीज हैं तो चाहिये फ़रारी
ला इलाज हैं ये बीमारी
दौलतमंद भी लगे हैं भिखारी
लेटेस्ट हो मोबाइल डिज़ाइनर हो कपड़े
सो ऑफ में हैं सारा शहर
अगर हम कहीं पहुँच भी गये तो
कौन मिलेगा हमसे दिल खोल कर
कितने हैं सिग्नल, कितने हैं स्पीड ब्रेकर
इस ट्रैफिक में हम जायेंगे किधर

दिल में जलन लव पे मुस्कराहट
इस जहान में हैं कितनी बनावट
हर रिश्तें मैं आई गिरावट
अब तो मोहाब्बत में भी हैं मिलावट
घाटे का सब सौदा हैं ये
गम खरीद रहे हैं खुशियाँ बेचकर
अगर हम हम कहीं पहुँच भी गये तो
कौन मिलेगा हमसे दिल खोल कर
कितने हैं सिग्नल, कितने हैं स्पीड ब्रेकर
इस ट्रैफिक में हम जायेंगे किधर
कितने हैं सिग्नल, कितने हैं स्पीड ब्रेकर
इस ट्रैफिक में हम जायेंगे किधर

No comments:

Post a comment