1 August 2015

Lyrics Of "Ek Ladki Bheegi Bhagi Si" From Movie - Listen Amaya (2013)

Ek Ladki Bheegi Bhagi Si
Ek Ladki Bheegi Bhagi Si
Lyrics Of Ek Ladki Bheegi Bhagi Si From Movie - Listen Amaya (2013): A playful love song in the voice of Kunal Ganjawala featuring Swara Bhaskar, Siddhant Karnick, Deepti Naval.

Music: Indraneel Hariharan
Lyrics: Punam Hariharan
Star Cast: Farooq Sheikh, Deepti Naval, Swara Bhaskar, Siddhant Karnick, Vidya Bhushan, Shadab khan.




The video of this song is available on YouTube at the official channel Saregama GenY. This video is of 2 minutes 46 seconds duration.

Lyrics of "Ek Ladki Bheegi Bhagi Si"


ek ladki bhigi bhagi si soti rato me jagi se
mili ek ajnabi si koi aage na piche
tum hi kaho ye koi bat hai
ek ladki bhigi bhagi si soti rato me jagi se
mili ek ajnabi si koi aage na piche
tum hi kaho ye koi bat hai

dil hi dil me jali jati hai
bigdi bigdi chali aati hai
dil hi dil me jali jati hai
bigdi bigdi chali aati hai
dhundhlati hui balkhati hui
sawan ki suni raat me
mili ek ajnabi si koi aage na piche
tum hi kaho ye koi bat hai
ek ladki bhigi bhagi si soti rato me jagi se
mili ek ajnabi si koi aage na piche
tum hi kaho ye koi bat hai

dagmag dagmag lahati lahati
bhuli bhatki behaki behaki
dagmag dagmag lahati lahati
bhuli bhatki behaki behaki
machali machali ghar se nikali
badli si kaali raat me
mili ek ajnabi si koi aage na piche
tum hi kaho ye koi bat hai
ek ladki bhigi bhagi si soti rato me jagi se
mili ek ajnabi si koi aage na piche
tum hi kaho ye koi bat hai

tan bhiga hai sar gila hai
uska koi pench bhi dhila hai
tan bhiga hai sar gila hai
uska koi pench bhi dhila hai
tanti jhukti chalti rukti
nikli andheri raat me
mili ek ajnabi si koi aage na piche
tum hi kaho ye koi bat hai
ek ladki bhigi bhagi si soti rato me jagi se
mili ek ajnabi si koi aage na piche
tum hi kaho ye koi bat hai

Lyrics in Hindi (Unicode) of "एक लडकी भीगी भागी सी"


एक लडकी भीगी भागी सी सोती रातो में जागी सी
मिली एक अजनबी से कोई आगे ना पीछे
तुम ही कहो ये कोई बात हैं
एक लडकी भीगी भागी सी सोती रातो में जागी सी
मिली एक अजनबी से कोई आगे ना पीछे
तुम ही कहो ये कोई बात हैं

दिल ही दिल में जली जाती हैं
बिगड़ी बिगड़ी चली आती हैं
दिल ही दिल में जली जाती हैं
बिगड़ी बिगड़ी चली आती हैं
धुंधलाती हुई बलखाती हुई
सावन की सुनी रात में
मिली एक अजनबी से कोई आगे ना पीछे
तुम ही कहो ये कोई बात हैं
एक लडकी भीगी भागी सी सोती रातो में जागी सी
मिली एक अजनबी से कोई आगे ना पीछे
तुम ही कहो ये कोई बात हैं

डगमग डगमग लहती लहती
भूली भटकी बहकी बहकी
डगमग डगमग लहती लहती
भूली भटकी बहकी बहकी
मचली मचली घर से निकली
बदली सी काली रात में
मिली एक अजनबी से कोई आगे ना पीछे
तुम ही कहो ये कोई बात हैं
एक लडकी भीगी भागी सी सोती रातो में जागी सी
मिली एक अजनबी से कोई आगे ना पीछे
तुम ही कहो ये कोई बात हैं

तन भीगा हैं सर गिला हैं
उसका कोई पेच भी ढीला हैं
तन भीगा हैं सर गिला हैं
उसका कोई पेच भी ढीला हैं
तनती झुकती छलकी रूकती
निकली अँधेरी रात में
मिली एक अजनबी से कोई आगे ना पीछे
तुम ही कहो ये कोई बात हैं
एक लडकी भीगी भागी सी सोती रातो में जागी सी
मिली एक अजनबी से कोई आगे ना पीछे
तुम ही कहो ये कोई बात हैं

No comments:

Post a comment