10 August 2015

Lyrics Of "Ishq Ki Aag" From Movie - Dee Saturday Night (2014)

Ishq Ki Aag
Ishq Ki Aag
Lyrics Of Ishq Ki Aag From Movie - Dee Saturday Night (2014): A romantic song sung by Kailash Kher featuring Mahi Khanduri, Prashant Narayanan.

Singer: Kailash Kher
Music: Ankit Tiwari
Lyrics: Sandeep Nath
Star Cast: Prashant Narayanan, Aman Verma, Mahi Khanduri, Arif Zakaria, Gaurav Dixit, Nazneen Patel.




The video of this song is available on YouTube at the official channel Cinecurry. This video is of 3 minutes 20 seconds duration.

Lyrics of "Ishq Ki Aag"


ishq ki aag bahutai ikhi
koi dawa lage na daru
ek ajab si aag utthe mann me
kaise ishq ka bhut utaru
jism-o-jaan ki jarurat hai
jism-o-jaan ki jarurat hai
jism-o-jaan ki jarurat hai
jism-o-jaan ki jarurat hai
jism-o-jaan ki jarurat hai pyar
jism-o-jaan ki jarurat hai pyar
na karo, na karo, na karo inkaar

jism-o-jaan ki jarurat hai pyar
jism-o-jaan ki jarurat hai pyar
na karo, na karo, na karo inkaar
jism-o-jaan ki jarurat hai pyar
jism-o-jaan ki jarurat hai pyar
jism-o-jaan ki jarurat hai
jism-o-jaan ki jarurat hai
jism-o-jaan ki jarurat hai

chehre pe aa gaya dekh lo kaisa nur
aankhon me surur, binti ye hi hai huzur
aankhon me surur, binti ye hi hai huzur
hai yahi ilteza, na raho humse dur
hai yahi ilteza, na raho humse dur
ab ye haan janeman, kar do na chak-na-chur
jism-o-jaan ki jarurat hai pyar
jism-o-jaan ki jarurat hai pyar
na karo, na karo, na karo inkaar
jism-o-jaan ki jarurat hai pyar
jism-o-jaan ki jarurat hai pyar
na karo, na karo, na karo inkaar
jism-o-jaan ki jarurat hai pyar

Lyrics in Hindi (Unicode) of "इश्क की आग"


इश्क की आग बहुते तीखी
कोई दवा लगे ना दारु
एक अजब सी आग उठे मन मे
कैसे इश्क का भुत उतारू
जिस्म-ओ-जाँ की जरुरत है
जिस्म-ओ-जाँ की जरुरत है
जिस्म-ओ-जाँ की जरुरत है
जिस्म-ओ-जाँ की जरुरत है
जिस्म-ओ-जाँ की जरुरत है प्यार
जिस्म-ओ-जाँ की जरुरत है प्यार
ना करो, ना करो, ना करो इनकार

जिस्म-ओ-जाँ की जरुरत है प्यार
जिस्म-ओ-जाँ की जरुरत है प्यार
ना करो, ना करो, ना करो इनकार
जिस्म-ओ-जाँ की जरुरत है प्यार
जिस्म-ओ-जाँ की जरुरत है प्यार
जिस्म-ओ-जाँ की जरुरत है
जिस्म-ओ-जाँ की जरुरत है
जिस्म-ओ-जाँ की जरुरत है

चेहरे पे आ गया देख लो कैसा नूर
आँखों मे सुरूर, बिनती ये ही है हुजूर
आँखों मे सुरूर, बिनती ये ही है हुजूर
है यही इल्तेजा, ना राहों हमसे दूर
है यही इल्तेजा, ना राहों हमसे दूर
अब ये हा जानेमन, कर दो ना चक-ना-चूर
जिस्म-ओ-जाँ की जरुरत है प्यार
जिस्म-ओ-जाँ की जरुरत है प्यार
ना करो, ना करो, ना करो इनकार
जिस्म-ओ-जाँ की जरुरत है प्यार
जिस्म-ओ-जाँ की जरुरत है प्यार
ना करो, ना करो, ना करो इनकार
जिस्म-ओ-जाँ की जरुरत है प्यार

No comments:

Post a comment