4 August 2015

Lyrics Of "Saathi Re" From Movie - Satya 2 (2013)

Saathi Re
Saathi Re
Lyrics Of Saathi Re From Movie - Satya 2 (2013): A playful love song in the voice of Rishi Singh, Tishika Jain featuring Punit Singh Ratn, Anaika Soti.

Singer: Rishi Singh, Tishika Jain
Music: Nitin Raikwar
Lyrics: Nitin Raikwar
Star Cast: Punit Singh Ratn, Anaika Soti, Mahesh Thakur, Raj Premi, Kaushal Kapoor.




Lyrics of "Saathi Re"


saathi re saathi re saathi re
saathi re saathi re saathi re
anjaan tha main khud ki nazar me
teri nazar se pehchan mili
anjaan tha main khud ki nazar me
teri nazar se pehchan mili
ha main hu, ab main hu
ha main hu, ab main hu

sathi re saathi re sathi re
sathi re saathi re sathi re
anjaan thi main khud ki nazar me
teri nazar se pehchan mili
anjaan thi main khud ki nazar me
teri nazar se pehchan mili
ha main hu, ab main hu
ha main hu, ab main hu
saathi re saathi re saathi re
saathi re saathi re saathi re

pehli dafa main mila zindagi se
pehli dafa dosti ho gayi hai khushi se
kya rang hote hai zindagi ke
mujhko pata ye chala hai mili jab tujhi se
mujhe pyar hua hai jeene se, tere hone se
mujhe pyar hua hai jeene se, tere hone se
ha main hu, ab main hu
ha main hu, ab main hu
saathi re saathi re saathi re
saathi re saathi re saathi re

main chal rahi hu upar zami se
ye jo ho raha hai
meri jaan hua hai tujhi se
achanak me kissa
mere saath ye ho gaya hai
badi tez tere mere pyar ki daasta hai
mujhe pyar hua hai jeene se, tere hone se
mujhe pyar hua hai jeene se, tere hone se
ha main hu, ab main hu
ha main hu, ab main hu
saathi re saathi re saathi re
saathi re saathi re saathi re


Lyrics in Hindi (Unicode) of "साथी रे"


साथी रे साथी रे साथी रे
साथी रे साथी रे साथी रे
अन्जान था मैं खुद की नज़र में
तेरी नज़र से पहचान मिली
अन्जान था मैं खुद की नज़र में
तेरी नज़र से पहचान मिली
हा मैं हु, अब मैं हु
हा मैं हु, अब मैं हु

साथी रे साथी रे साथी रे
साथी रे साथी रे साथी रे
अन्जान थी मैं खुद की नज़र में
तेरी नज़र से पहचान मिली
अन्जान थी मैं खुद की नज़र में
तेरी नज़र से पहचान मिली
हा मैं हु, अब मैं हु
हा मैं हु, अब मैं हु
साथी रे साथी रे साथी रे
साथी रे साथी रे साथी रे

पहली दफा मैं मिला ज़िन्दगी से
पहली दफा दोस्ती हो गयी ख़ुशी से
क्या रंग होते है ज़िन्दगी के
मुझको पता ये चला है मिली जब तुझी से
मुझे प्यार हुआ है जीने से, तेरे होने से
मुझे प्यार हुआ है जीने से, तेरे होने से
हा मैं हु, अब मैं हु
हा मैं हु, अब मैं हु
साथी रे साथी रे साथी रे
साथी रे साथी रे साथी रे

मैं चल रही हु ऊपर ज़मी से
ये जो हो रहा है
मेरी जान हुआ है तुझी से
अचानक में किस्सा
मेरे साथ ये हो गया है
बड़ी तेज़ तेरे मेरे प्यार की दास्ता है
मुझे प्यार हुआ है जीने से, तेरे होने से
मुझे प्यार हुआ है जीने से, तेरे होने से
हा मैं हु, अब मैं हु
हा मैं हु, अब मैं हु
साथी रे साथी रे साथी रे
साथी रे साथी रे साथी रे

No comments:

Post a comment