13 August 2015

Lyrics Of "Sheeshe Ka Dil" From Movie - Gang Of Ghosts (2014)

Sheeshe Ka Dil
Sheeshe Ka Dil
Lyrics Of Sheeshe Ka Dil From Movie - Gang Of Ghosts (2014): A sad song sung by Rupmatii Jolly featuring Mahie Gill, Anupam Kher.

Music: Dharam Sandeep
Lyrics: Satish Kaushik
Star Cast: Sharman Joshi, Mahie Gill, Anupam Kher, Meera Chopra, Saurabh Shukla, Chunky Pandey, Yashpal Sharma, Asrani, Parambrata Chatterjee, Jackie Shroff, Rajpal Yadav.




The video of this song is available on YouTube at the official channel Venus Movies. This video is of 4 minutes 33 seconds duration.

Lyrics of "Sheeshe Ka Dil"


saanso ka dhadkan se rishta jo tha wo chhut gaya
shishe ka dil mera chhan se gir ke toot gaya

parwane ka sang shama se jo tha
parwane ka sang shama se jo tha woh chhoot gaya
shishe ka dil mera chhan se gir ke toot gaya
shishe ka dil mera chhan se gir ke toot gaya

sooni andhiyari raato ki mehfil hai
tera gham mehman ban karke shamil hai
sooni andhiyari raato ki mehfil hai
tera gham mehman ban karke shamil hai
haaye khushiyo ka lagav kab ka hi chhoot gaya
shishe ka dil mera chhan se gir ke toot gaya
shishe ka dil mera chhan se gir ke toot gaya

dheemi dheemi aanch pe dil yeh jalta hai
seene se ik dard ka toofan uthta hai
dheemi dheemi aanch pe dil yeh jalta hai
seene se ik dard ka toofan uthta hai
waqt lootera sab kuchh loot gaya
shishe ka dil mera chhan se gir ke toot gaya
shishe ka dil mera chhan se gir ke toot gaya

Lyrics in Hindi (Unicode) of "शीसे का दिल"


साँसों का धड़कन से रिश्ता जो था वो छूट गया
शीसे का दिल मेरा छन से गिर के टूट गया

परवाने का संग जो शमा से था
परवाने का संग जो शमा से था वो छूट गया
शीसे का दिल मेरा छन से गिर के टूट गया
शीसे का दिल मेरा छन से गिर के टूट गया

सूनी अंधियारी रातो की महफ़िल है
तेरा गम मेहमान बन करके शामिल है
सूनी अंधियारी रातो की महफ़िल है
तेरा गम मेहमान बन करके शामिल है
हाय खुशिया का लगाव कब का ही छूट गया
शीसे का दिल मेरा छन से गिर के टूट गया
शीसे का दिल मेरा छन से गिर के टूट गया

धीमी धीमी आंच पे दिल ये जलता है
सीने से एक दर्द का तुफा उठता है
धीमी धीमी आंच पे दिल ये जलता है
सीने से एक दर्द का तुफा उठता है
वक़्त लुटेरा सब कुछ लूट गया
शीसे का दिल मेरा छन से गिर के टूट गया
शीसे का दिल मेरा छन से गिर के टूट गया


No comments:

Post a comment