4 August 2015

Lyrics Of "Tu Nahi Kuchh Nahi" From Movie - Satya 2 (2013)

Tu Nahi Kuchh Nahi
Tu Nahi Kuchh Nahi
Lyrics Of Tu Nahi Kuchh Nahi From Movie - Satya 2 (2013): Nice romantic song sung by Shweta Pandit, Leonard Victor featuring Punit Singh Ratn, Anaika Soti.

Singer: Shweta Pandit, Leonard Victor
Music: Nitin Raikwar
Lyrics: Nitin Raikwar
Star Cast: Punit Singh Ratn, Anaika Soti, Mahesh Thakur, Raj Premi, Kaushal Kapoor.



The video of this song is available on YouTube at the official channel T-Series. This video is of 1 minutes 31 seconds duration.
 

Lyrics of "Tu Nahi Kuchh Nahi"


tu nahi kuchh nahi kuchh nahi tu nahi
tu nahi kuchh nahi kuchh nahi tu nahi
sunu naa kuchh tere siwa, kahu naa kuchh tere siwa
kahe zami ya aasma, naa main rahu tere siwa

tere siwa naa main rahu, naa tu rahe mere siwa
jaha bhi ye zami rahe, jaha bhi aasma rahe
jo tu rahe to main rahu, meri sada yahi kahe
mere kadam wahi chale, jaha tere kadam chale
tu nahi kuchh nahi kuchh nahi tu nahi

teri ye nigaahe mujhko bataye pyar tera kitna pyara
teri ye do baahe jannato ki raahe pyar ki behti jaha dhaara
mila hai mujhe pyar itna ke main har pal ko jeeti hu
pata nahi kyun naam mera tera har dam leti hu
main bas tera hi rup hu. main bas tera hi rang hu
main mere saath hu nahi, main bas tere hi sang hu
tu sang hai to hai hasi, tu sang hai to hai khushi
tu sang hai to sang main, nahi to kya ye zindagi
tu nahi kuchh nahi kuchh nahi tu nahi

tujhse shuru ho tujhpe khatam ho chaahe ek pal ka jivan ho
mera bhi hai kehna tere sang rehna tujhse hi mera sangam ho
tu hi to meri aas hai pyaas hai, mera ehsaas hai
tu hi to meri saanso ki dor hai, tu khaas hai
main hu to bas tere liye, main hu nahi mere liye
main tu hu khud me dekh le, zara laga mujhe gale
main ye kahu ya wo kahu, tere liye main kya kahu
kahu to bas yahi kahu, yahi kahu tere liye
tu nahi kuchh nahi kuchh nahi tu nahi

Lyrics in Hindi (Unicode) of "तू नहीं कुछ नहीं"


तू नहीं कुछ नहीं कुछ नहीं तू नहीं
तू नहीं कुछ नहीं कुछ नहीं तू नहीं
सुनु ना कुछ तेरे सिवा, कहू ना कुछ तेरे सिवा
कहे ज़मी या आसमा, ना मैं रहू तेरे सिवा

तेरे सिवा ना मैं रहू, ना तू रहे मेरे सिवा
जहा भी ये ज़मी रहे, जहा भी आसमा रहे
जो तू रहे तो मैं रहू, मेरी सदा यही कहे
मेरे कदम वही चले, जहा तेरे कदम चले
तू नहीं कुछ नहीं कुछ नहीं तू नहीं

तेरी ये निगाहें मुझको बताये प्यार तेरा कितना प्यारा
तेरी ये दो बाहे जन्नतो की राहे प्यार की बहती जहा धारा
मिला है मुझे प्यार इतना के मैं हर पल को जीती हु
पता नहीं क्यूँ नाम मेरा तेरा हर दम लेती हु
मैं बस तेरा ही रूप हु, मैं बस तेरा ही रंग हु
मैं मेरे साथ हु नहीं, मैं बस तेरे ही संग हु
तू संग है तो है हसी, तू संग है तो है ख़ुशी
तू संग है तो है संग मैं नहीं तो क्या ये ज़िन्दगी
तू नहीं कुछ नहीं कुछ नहीं तू नहीं

तुझसे शुरू हो तुझपे ख़तम हो चाहे एक पल का जीवन हो
मेरा भी है कहना तेरे संग रहना तुझसे ही मेरा संगम हो
तू ही तो मेरी आस है प्यास है, मेरा एहसास है
तू ही तो मेरी साँसों की डोर है, तू ख़ास है
मैं हु तो बस तेरे लिये, मैं हु नहीं मेरे लिये
मैं तू हु खुद में देख ले, ज़रा लगा मुझे गले
मैं ये कहू या वो कहू, तेरे लिये मैं क्या कहू
कहू तो बस यही कहू, यही कहू तेरे लिये
तू नहीं कुछ नहीं कुछ नहीं तू नहीं


No comments:

Post a comment