28 March 2016

Lyrics Of "Berukhiyan" From Latest Album - Ishq Anokha (Kailash Kher) (2016)

Berukhiyan
Berukhiyan
A song sung and written by Kailash Kher with music composed by Kailasa.

Singer: Kailash Kher
Music: Kailasa
Lyrics: Kailash Kher






Lyrics of "Berukhiyan"


aage thago ki basti hai, chup chaap thage jaana
waha daayan dasti hai, khud aap dase jaana
aage thago ki basti hai, chup chaap thage jaana
waha daayan dasti hai, khud aap dase jaana

baat kar mohabbatiya are o ulfatiya
mohabbatiya are o ulfatiya
teri berukhiya, teri berukhiya
ho teri berukhiya kya jaane kise daa
ho teri berukhiya kya jaane kise daa dil dukhiya
teri berukhiya, teri berukhiya kya jaane kise daa dil dukhiya
dil dukhiya, dil dukhiya, dil dukhiya, dil ha ha dil dukhiya

jo tune kiya woh ishq nahi tha, khel tha woh bhi ik tarfa
to phir kaise paath chhapenge, soch zara mustak mil bhi
tere khayalo ka kaise ho jaau, bedhang be-dil beparwaah
sidhi pakad kitaab palat balkhata, jhank zara apne dil me
ye andhiyaari raat hai, band aankh kadam bharna
khatre me bisaat hai, bebaak chaal chalna

chaal chal mohabbatiya are o ulfatiya
mohabbatiya are o ulfatiya
sadke teri beparwaiya haaye dil mar mitiya
o teri berukhiya kya jaane kise da
berukhiya berukhiya berukhiya berukhiya
berukhiya berukhiya berukhiya berukhiya
teri berukhiya, teri berukhiya
teri berukhiya, teri berukhiya


Lyrics in Hindi (Unicode) of "बेरुखियाँ"

 
आगे ठगों की बसती हैं, चुप चाप ठगे जाना
वहाँ डायन डसती हैं, खुद आप डसे जाना
आगे ठगों की बसती हैं, चुप चाप ठगे जाना
वहाँ डायन डसती हैं, खुद आप डसे जाना

बात कर मोहब्बतियाँ अरे ओ उल्फतियाँ
मोहब्बतियाँ अरे ओ उल्फतियाँ
तेरी बेरुखियाँ, तेरी बेरुखियाँ
हो तेरी बेरुखियाँ क्या जाने किसे दा
हो तेरी बेरुखियाँ क्या जाने किसे दा दिल दुखियाँ
तेरी बेरुखियाँ, तेरी बेरुखियाँ क्या जाने किसे दा दिल दुखियाँ
दिल दुखियाँ, दिल दुखियाँ, दिल दुखियाँ, दिल हाँ हाँ दिल दुखियाँ

जो तूने किया वो इश्क नहीं था, खेल था वो भी इक तरफ़ा
तो फिर कैसे पाठ छपेंगे, सोच ज़रा मुस्तक मिल भी
तेरे खयालो का कैसे हो जाऊ, बेढंग बे-दिल बेपरवाह
सीधी पकड़ किताब पलट बलखाता, झांक ज़रा अपने दिल में
ये अँधियारी रात हैं, बंद आँख कदम भरना
खतरे में बिसात हैं, बेबाक चाल चलना

चाल चल मोहब्बतियाँ अरे ओ उल्फतियाँ
मोहब्बतियाँ अरे ओ उल्फतियाँ
सदके तेरी बेपरवाइयां हाय दिल मर मिटियाँ
हो तेरी बेरुखियाँ क्या जाने किसे दा
बेरुखियाँ बेरुखियाँ बेरुखियाँ बेरुखियाँ
बेरुखियाँ बेरुखियाँ बेरुखियाँ बेरुखियाँ
तेरी बेरुखियाँ, तेरी बेरुखियाँ
तेरी बेरुखियाँ, तेरी बेरुखियाँ

No comments:

Post a comment