20 August 2016

Lyrics Of "Purza Purza Tera" From Latest Movie - Akira (2016)

Purza Purza Tera
Purza Purza Tera
Beautiful love song in the voice of Arijit Singh featuring Sonakshi Sinha.

Singer: Arijit Singh
Music: Vishal Shekhar
Lyrics: Manoj Muntashir
Star Cast: Sonakshi Sinha, Konkona Sen Sharma, Anurag Kashyap, Amit Sadh, Raai Laxmi.






The audio of this song is available on YouTube at the official channel T-Series. This audio is of 3 minutes 36 seconds duration.

Lyrics of "Purza Purza Tera"


ek rishta hai uss rishte ka main naam jaanu na
ek rasta hai uss raste ka anjaam jaanu na
bas itna hi hai pata ke ho gayi hai khata
main khud ka na raha
main purza purza tera, main purza purza tera
naa aadha pauna tera, main pura pura tera
main purza purza tera, main purza purza tera
naa aadha pauna tera, main pura pura tera

main bhi aadha khoya sa hu, tu bhi aadhi khoyi si
kya pata ke pure ho jaye hum mil ke ek dooje se
thodi thodi mujhko tu hai ho gayi zaruri si
kya pata ke pure ho jaye hum mil ke yun
shikwa hai rabb se zara, jabse hua tu mera
main khud ka na rahaa o
main purza purza tera, main purza purza tera
naa aadha pauna tera, main pura pura tera

dil ke band darwaajo ko khatkhata ke dekha hai
koi bhi nahi iss ghar me, kamra kamra tu hi tu hai
khidkiyo se mann ki jhanke sham si teri aankhe
ab kaha main baaki mujhme, bas tu hi tu hai
kaisa nasha sa hai ye, kaisa tamasha hai ye
main khud ka na raha
main purza purza tera, main purza purza tera
naa aadha pauna tera, main pura pura tera
tera o pura tera
purza purza tera, purza purza tera ho o


Lyrics in Hindi (Unicode) of "पुर्ज़ा पुर्ज़ा तेरा"


एक रिश्ता हैं उस रिश्ते का मैं नाम जानू ना
एक रस्ता हैं उस रस्ते का अंजाम जानू ना
बस इतना ही हैं पता के हो गई हैं खता
मैं खुद का ना रहा
मैं पुर्ज़ा पुर्ज़ा तेरा, मैं पुर्ज़ा पुर्ज़ा तेरा
ना आधा पौना तेरा, मैं पूरा पूरा तेरा
मैं पुर्ज़ा पुर्ज़ा तेरा, मैं पुर्ज़ा पुर्ज़ा तेरा
ना आधा पौना तेरा, मैं पूरा पूरा तेरा

मैं भी आधा खोया सा हूँ, तू भी आधी खोयी सी
क्या पता के पुरे हो जाए हम मिल के एक दूजे से
थोड़ी थोड़ी मुझको तू हैं हो गई ज़रूरी सी
क्या पता के पुरे हो जाए हम मिल के यूँ
शिकवा हैं रब से ज़रा, जबसे हुआ तू मेरा
मैं खुद का ना रहा ओ
मैं पुर्ज़ा पुर्ज़ा तेरा, मैं पुर्ज़ा पुर्ज़ा तेरा
ना आधा पौना तेरा, मैं पूरा पूरा तेरा

दिल के बंद दरवाजों को खटखटा के देखा हैं
कोई भी नहीं इस घर में, कमरा कमरा तू ही तू हैं
खिडकियों से मन की झांके शाम सी तेरी आँखे
अब कहा मैं बाकी मुझमे, बस तू ही तू हैं
कैसा नशा सा हैं ये, कैसा तमाशा है ये
मैं खुद का ना रहा
मैं पुर्ज़ा पुर्ज़ा तेरा, मैं पुर्ज़ा पुर्ज़ा तेरा
ना आधा पौना तेरा, मैं पूरा पूरा तेरा
तेरा ओ पूरा तेरा
पुर्ज़ा पुर्ज़ा तेरा, पुर्ज़ा पुर्ज़ा तेरा हो ओ

No comments:

Post a comment