17 June 2015

Lyrics Of "Tumhare Paas" From Latest Album - Ehsaas Ki Khushboo (2015)

Tumhare Paas
Tumhare Paas
Lyrics Of Tumhare Paas From Album - Ehsaas Ki Khushboo (2015): A Ghazal sung by Pooja Gaitonde, Pankaj Udhas & music composed by Ali - Ghani.

Singer: Pooja Gaitonde, Pankaj Udhas
Music: Ali - Ghani
Lyrics: Aalok Shrivastav





The video of this song is available on youtube at the official channel Times Music. This video is of 5 minutes 00 seconds duration.



Lyrics of "Tumhare Paas"



tumhare paas aate hain
toh saanse bheeg jaati hain
tumhare paas aate hain
toh saanse bheeg jaati hain
mohabbat itni milti hain
mohabbat itni milti hain
ke aankhein bheeg jaati hain
tumhare paas aate hain
toh saanse bheeg jaati hain

tabassum ittar jaisa hai
tabassum ittar jaisa hai
hassi barsaat jaisi hai
tabassum ittar jaisa hai
hassi barsaat jaisi hai
hassi barsaat jaisi hai
wo jab bhi baat karti hai
wo jab bhi baat karti hai
toh baatein bheeg jaati hain
tumhare paas aate hain
toh saanse bheeg jaati hain

sainadha baahyariyaa dheemo madhiro chaal
sainadha baahyariyaa dheemo madhiro chaal
are dheemo madhiro chaal re
baahyariyaa dheemo madhiro chaal re
baahyariyaa sainadha baahyariyaa
dheemo madhiro chaal

tumhari yaad se
tumhari yaad se dil mein
ujala hone lagta hai
tumhari yaad se dil mein
ujala hone lagta hai
tumhe jab gungunati hoon
tumhe jab gungunati hoon
to raatein bheeg jaati hain
tumhare paas aate hain
to saanse bheeg jaati hain

tere ehsaas ki khushboo
tere ehsaas ki khushboo
hamesha taaza rahti hai
tere ehsaas ki khushboo
hamesha taaza rahti hai
teri rehmat ki baarish se
teri rehmat ki baarish se
muraadein bheeg jaati hain
tumhare paas aate hain
to saanse bheeg jaati hain


Lyrics in Hindi (Unicode) of "तुम्हारे पास"


तुम्हारे पास आते हैं
तो साँसे भीग जाती हैं
तुम्हारे पास आते हैं
तो साँसे भीग जाती हैं
मोहब्बत इतनी मिलती हैं
मोहब्बत इतनी मिलती हैं
के आँखें भीग जाती हैं
तुम्हारे पास आते हैं
तो साँसे भीग जाती हैं

तबस्सुम इत्तर जैसा हैं
तबस्सुम इत्तर जैसा हैं
हसी बरसात जैसी हैं
तबस्सुम इत्तर जैसा हैं
हसी बरसात जैसी हैं
हसी बरसात जैसी हैं
वो जब भी बात करती हैं
वो जब भी बात करती हैं
तो बाते भीग जाती हैं
तुम्हारे पास आते हैं
तो साँसे भीग जाती हैं

सैनाधा बाहयारिया धीमो मधिरो चाल
सैनाधा बाहयारिया धीमो मधिरो चाल
अरे धीमो मधिरो चाल रे
बाहयारिया धीमो मधिरो चाल रे
बाहयारिया सैनाधा बाहयारिया
धीमो मधिरो चाल

तुम्हारी याद से
तुम्हारी याद से दिल मे
उजाला होने लगता हैं
तुम्हारी याद से दिल मे
उजाला होने लगता हैं
तुम्हे जब गुनगुनाती हूँ
तुम्हे जब गुनगुनाती हूँ
तो राते भीग जाती हैं
तुम्हारे पास आते हैं
तो साँसे भीग जाती हैं

तेरे एहसास की खुशबु
तेरे एहसास की खुशबु
हमेशा ताज़ा रहती हैं
तेरे एहसास की खुशबु
हमेशा ताज़ा रहती हैं
तेरी रहमत की बारिश से
तेरी रहमत की बारिश से
मुरादे भीग जाती हैं
तुम्हारे पास आते हैं
तो साँसे भीग जाती हैं

No comments:

Post a comment