9 July 2015

Lyrics Of "Aawara Sa Nasha" From Movie - Kuchh Kariye (2010)

Aawara Sa Nasha
Aawara Sa Nasha
Lyrics Of Aawara Sa Nasha From Movie - Kuchh Kariye (2010): A rock song sung by Sukhwinder Singh and music composed by Onkar.

Singer: Sukhwinder Singh
Music: Onkar
Lyrics: Salim Bijnauri
Star Cast:  Sukhwinder Singh, Vikrum Kumar, Rufy Khan, Shriya Saran, Khuahhish, Deepak Shirke, Mushtaq Khan, Surendra Pal.


Lyrics of "Aawara Sa Nasha"


aawara sa nasha, banjara sa nasha
aawara sa nasha, banjara sa nasha
daulat thi ud gayi gayi
daulat thi ud gayi shauhrat bhi mud gayi
nakaara sa nasha, aawara sa nasha
banjara sa nasha nasha nasha

o sauteli hai ye, sauteli hai ye
paheli hai ye, paheli hai ye
akeli hai ye, akeli hai ye kiski saheli hai ye
o sauteli hai ye, paheli hai ye
akeli hai ye, kiski saheli hai ye
sauteli hai ye, paheli hai ye
akeli hai ye, kiski saheli hai ye
daulat thi ud gayi, daulat thi ud gayi
shauhrat bhi mud gayi
bechara sa nasha, aawara sa nasha
banjara sa nasha, aawara sa nasha

o koi sautan hai ye, koi sautan hai ye
badi uljan hai ye, badi uljan hai ye
yaaro ke bhes me, yaaro ke bhes me
sabki to dushman hai ye
o koi sautan hai ye, badi uljan hai ye
yaaro ke bhes me sabki to dushman hai ye
o koi sautan hai ye, badi uljan hai ye
yaaro ke bhes me sabki to dushman hai ye
daulat thi ud gayi, daulat thi ud gayi
shauhrat bhi mud gayi
angaara sa nasha, aawara sa nasha
banjara sa nasha, nakara sa nasha


Lyrics in Hindi (Unicode) of "आवारा सा नशा"


आवारा सा नशा, बंजारा सा नशा
आवारा सा नशा, बंजारा सा नशा
दौलत थी उड गयी गयी
दौलत थी उड गयी शौहरत भी मुड गयी
नाकारा सा नशा, आवारा सा नशा
बंजारा सा नशा नशा नशा

ओ सौतेली हैं ये, सौतेली हैं ये
पहेली हैं ये, पहेली हैं ये
अकेली हैं ये, अकेली हैं ये किसकी सहेली हैं ये
ओ सौतेली हैं ये, पहेली हैं ये
अकेली हैं ये, किसकी सहेली हैं ये
सौतेली हैं ये, पहेली हैं ये
अकेली हैं ये, किसकी सहेली हैं ये
दौलत थी उड़ गयी, दौलत थी उड़ गयी
शौहरत भी मुड गयी
बेचारा सा नशा, आवारा सा नशा
बंजारा सा नशा, आवारा सा नशा

ओ कोई सौतन हैं ये, कोई सौतन हैं ये
बड़ी उलझन हैं ये, बड़ी उलझन हैं ये
यारो के भेष में, यारो के भेष में
सबकी तो दुशमन हैं ये
ओ कोई सौतन हैं ये, बड़ी उलझन हैं ये
यारो के भेष में सबकी तो दुशमन हैं ये
ओ कोई सौतन हैं ये, बड़ी उलझन हैं ये
यारो के भेष में सबकी तो दुशमन हैं ये
दौलत थी उड़ गयी, दौलत थी उड़ गयी
शौहरत भी मुड गयी
अंगारा सा नशा, आवारा सा नशा
बंजारा सा नशा, नकारा सा नशा

No comments:

Post a comment