13 July 2015

Lyrics Of "Ai Khuda Tu Kuch To Bata Jara" From Movie - Mr. Singh Mrs. Mehta (2010)

Ai Khuda Tu Kuch To Bata Jara
Ai Khuda Tu Kuch To Bata Jara
Lyrics Of Ai Khuda Tu Kuch To Bata Jara From Movie - Mr. Singh Mrs. Mehta (2010): A song sung by Shujaat Husain Khan and lyrics penned by Amitabh Verma.

Singer: Shujaat Husain Khan
Music: Shujaat Husain Khan
Lyrics: Amitabh Verma
Star Cast: Prashant Narayanan, Aruna Shields, Naved Aslam, Lucy Hassan.




The video of this song is available on youtube.


Lyrics of "Ai Khuda Tu Kuch To Bata Jara"


ae khuda tu kuch to bata jara
ae khuda tu kuch to bata jara
yahi soch ke mushkil me hai
ae khuda tu kuch to bata jara
yahi soch ke mushkil me hai
tu huwa hai hum se bewafa
tu huwa hai hum se bewafa
ya mukalate mere dil ke hai
ae khuda tu kuch to bata jara
yahi soch ke mushkil me hai

tera ishq mera janun hai, tera dard mera nasib hai
tera ishq mera janun hai, tera dard mera nasib hai
tera ishq mera janun hai, tera dard mera nasib hai
diwangi ki ye imatiha
diwangi ki ye imatiha tanha bhari mahafil me hai
ae khuda tu kuch to bata jara
yahi soch ke mushkil me hai
tu huwa hai hum se bewafa
tu huwa hai hum se bewafa
ya mukalate mere dil ke hai
ae khuda tu kuch to bata jara
yahi soch ke mushkil me hai

tu hai har ghadi mere samne, fir bhi nahi mere paas hai
tu hai har ghadi mere samne, fir bhi nahi mere paas hai
tu hai har ghadi mere samne, fir bhi nahi mere paas hai
tujhe soch ke mahsus ho
tujhe soch ke mahsus ho ke do kadam manjil se hai
ae khuda tu kuch to bata jara
yahi soch ke mushkil me hai
tu huwa hai hum se bewafa
tu huwa hai hum se bewafa
ya mukalate mere dil ke hai

Lyrics in Hindi (Unicode) of "ऐ खुदा तू कुछ तो बता जरा"



ऐ खुदा तू कुछ तो बता जरा
ऐ खुदा तू कुछ तो बता जरा
यही सोच के मुश्किल में है
ऐ खुदा तू कुछ तो बता जरा
यही सोच के मुश्किल में है
तू हुआ हैं हम से बेवफा
तू हुआ हैं हम से बेवफा
या मुकालते मेरे दिल के हैं
ऐ खुदा तू कुछ तो बता जरा
यही सोच के मुश्किल में है

तेरा इश्क मेरा जनून हैं, तेरा दर्द मेरा नसीब हैं
तेरा इश्क मेरा जनून हैं, तेरा दर्द मेरा नसीब हैं
तेरा इश्क मेरा जनून हैं, तेरा दर्द मेरा नसीब हैं
दीवानगी की ये इम्तिहाँ
दीवानगी की ये इम्तिहाँ तनहा भरी महफ़िल में हैं
ऐ खुदा तू कुछ तो बता जरा
यही सोच के मुश्किल में है
तू हुआ हैं हम से बेवफा
तू हुआ हैं हम से बेवफा
या मुकालते मेरे दिल के हैं
ऐ खुदा तू कुछ तो बता जरा
यही सोच के मुश्किल में है

तू हैं हर घडी मेरे सामने, फिर भी नहीं मेरे पास हैं
तू हैं हर घडी मेरे सामने, फिर भी नहीं मेरे पास हैं
तू हैं हर घडी मेरे सामने, फिर भी नहीं मेरे पास हैं
तुझे सोच के महसूस हो
तुझे सोच के महसूस हो के दो कदम मंजिल से हैं
ऐ खुदा तू कुछ तो बता जरा
यही सोच के मुश्किल में है
तू हुआ हैं हमसे बेवफा
तू हुआ हैं हमसे बेवफा
या मुकालते मेरे दिल के हैं

No comments:

Post a comment