30 July 2015

Lyrics Of "Sooni Sooni" From Movie - Huff! - It's Too Much (2013)

Sooni Sooni
Sooni Sooni
Lyrics Of Sooni Sooni From Movie - Huff! - It's Too Much (2013): A sad love song in the voice of Salim Merchant featuring Pushkar Jog, Armeena Rana Khan.

Singer: Salim Merchant
Music: Saii-Piyush
Lyrics: Sarim Momin
Star Cast: Pushkar Jog, Armeena Rana Khan, Omar Khan, Mona Kiren, Humayun Zubairi, Niks Vaja.



The video of this song is available on YouTube.


Lyrics of "Sooni Sooni"


kyu har dua tut kar lauti yaaha
banjar hua yeh zamee woh aasma
tanhaa hu main, tu bhi tanhaa waha
aadhi adhuri rahi daasta
sooni sooni hai yeh nazar, soona soona hai yeh safar
sooni sooni raahe le chali, hai sooni manzil hai jidhar
tere bina kyu zindagi, tere bina kya hai khushi
tere bina baahe reh gayi hai sooni, soona hai yeh ghar

pal guzare jo tere saath me, ab woh pal yaad aayenge
kal khwab the mere haath me, ab yeh kal tadpaayenge
tha pehle dil kyu bepanha, tuta yeh dil kyu bewajah
sooni sooni hai yeh nazar, soona soona hai yeh safar
sooni sooni raahe le chali, hai sooni manzil hai jidhar
tere bina kyu zindagi, tere bina kya hai khushi
tere bina baahe reh gayi hai sooni, soona hai yeh ghar
sooni sooni hai, sooni sooni hai
sooni sooni hai, sooni sooni hai
sooni sooni hai, sooni sooni hai
sooni sooni hai, sooni sooni hai

yaar kyu aur aise hai kiss tarah, hai mili tanhaaiya
aaja aa paas mere ab bata, aa meri parchhaaiya
kuch unkahe shikave gile, bas reh gaye ab faasle
sooni sooni hai yeh nazar, soona soona hai yeh safar
sooni sooni raahe le chali, hai sooni manzil hai jidhar
tere bina kyu zindagi, tere bina kya hai khushi
tere bina baahe reh gayi hai sooni, soona hai yeh ghar
sooni sooni hai, sooni sooni hai
sooni sooni hai, sooni sooni hai
sooni sooni hai, sooni sooni hai
sooni sooni hai, sooni sooni hai

Lyrics in Hindi (Unicode) of "सूनी सूनी"


क्यों हर दुवा टूट कर लौटी यहाँ
बंजर हुआ ये ज़मी वो आसमा
तनहा हु मैं, तू भी तनहा वहा
आधी अधूरी रही दासता
सूनी सूनी हैं ये नज़र, सूना सूना हैं ये सफ़र
सूनी सूनी राहे ले चली, हैं सूनी मंजिल हैं जिधर
तेरे बिना क्यों ज़िन्दगी, तेरे बिना क्या हैं ख़ुशी
तेरे बिना बाहे रह गयी हैं सूनी, सूना हैं ये घर

पल गुज़ारे जो तेरे साथ में, अब वो पल याद आयेंगे
कल ख्वाब थे मेरे हाथ में, अब ये कल तड़पाएंगे
था पहले दिल क्यों बेपन्हा, टुटा ये दिल क्यों बेवजह
सूनी सूनी हैं ये नज़र, सूना सूना हैं ये सफ़र
सूनी सूनी राहे ले चली, हैं सूनी मंजिल हैं जिधर
तेरे बिना क्यों ज़िन्दगी, तेरे बिना क्या हैं ख़ुशी
तेरे बिना बाहे रह गयी हैं सूनी, सूना हैं ये घर
सूनी सूनी हैं, सूनी सूनी हैं
सूनी सूनी हैं, सूनी सूनी हैं
सूनी सूनी हैं, सूनी सूनी हैं
सूनी सूनी हैं, सूनी सूनी हैं

यार क्यों और ऐसे हैं किस तरह, हैं मिली तन्हाइया
आजा आ पास मेरे अब बता, आ मेरी परछाइया
कुछ अनकहे शिकवे गिले, बस रह गए अब फासले
सूनी सूनी हैं ये नज़र, सूना सूना हैं ये सफ़र
सूनी सूनी राहे ले चली, हैं सूनी मंजिल हैं जिधर
तेरे बिना क्यों ज़िन्दगी, तेरे बिना क्या हैं ख़ुशी
तेरे बिना बाहे रह गयी हैं सूनी, सूना हैं ये घर
सूनी सूनी हैं, सूनी सूनी हैं
सूनी सूनी हैं, सूनी सूनी हैं
सूनी सूनी हैं, सूनी सूनी हैं
सूनी सूनी हैं, सूनी सूनी हैं

No comments:

Post a comment