28 June 2016

Lyrics Of "Tuk Tuk Karti Chalti" From Salman Khan's Latest Movie - Sultan (2016)

Tuk Tuk Karti Chalti
Tuk Tuk Karti Chalti
A pop song sung by Vishal Dadlani and Nooran Sisters featuring Anushka Sharma, Salman Khan.

Singer: Vishal Dadlani, Nooran Sisters
Music: Vishal Shekhar
Lyrics: Irshad Kamil
Star Cast: Salman Khan, Anushka Sharma, Amit Sadh, Randeep Hooda, Urvashi Rautela.




Lyrics of "Tuk Tuk Karti Chalti"


doori dard, milan hai masti, duniya mujhko dekh ke hansti
ishq mera badnaam ho gaya, karke teri husn parasti

koi jogi, koi kalander, rehta hai apne me
koi bhula hua sikander, rehta hai apne me
koi jogi, koi kalander, rehta hai apne me
koi bhula hua sikander, rehta hai apne me
ho sajke dikhayegi, ho hans ke bulayegi
ho raj ke nachayegi
tuk tuk tuk tuk karti chalti, thaari maari zindagi
re bole, re bole dhola dhol dhadak dhin
dhadak dhin, dhadak dhin
re tuk tuk tuk tuk karti chalti, meethi thari zindagi
re bole, re bole dhola dhol dhadak dhin
dhadak dhin, dhadak dhin

apni marzi se banti bigadti, banti bigadti, banti bigadti
dhuaa nahi, aag nahi phir bhi hai jalti
oye hoye, oye hoye, oye hoye, oye
apni hi marzi se banti bigadti, banti bigadti, banti bigadti
dhuaa nahi, aag nahi phir bhi hai jalti
oye hoye, oye hoye, oye hoye, oye

its a take down
you gonna hit the ground hard
but life gets you hard and dhobi pachhad
what loving fighting aint far apart
you can love the fight but
you cant fight your heart
apni marzi se banti bigadti, banti bigadti, banti bigadti
dhuaa nahi, aag nahi phir bhi hai jalti
oye hoye, oye hoye, oye hoye, oye

ground start shaking
making sounds that you should not be making
taking steps out of your comfort zone
and youre fine to fight most your barrels alone
o taare jaisi chal chal hai, resham hai ya malmal hai
ya phir gehri daldal hai, zindagi ya ra ra ra
din din ghatti jaati hai, Phasal ye katti jaati hai
Nazar se hatti jaati hai, zindagi ya ra ra ra

dil samjhe nahi patandar, rehta hai apne me
bas banta phire dhurandar, rehta hai apne me
dil samjhe nahi patandar, rehta hai apne me
bas banta phire dhurandar, rehta hai apne me
ho sajke dikhayegi, ho hans ke bulayegi
ho raj ke nachayegi
tuk tuk tuk tuk karti chalti, thaari maari zindagi
re bole, re bole dhola dhol dhadak dhin
dhadak dhin, dhadak dhin
re tuk tuk tuk tuk karti chalti, meethi thaari zindagi
re bole, re bole dhola dhol dhadak dhin
dhadak dhin, dhadak dhin


Lyrics in Hindi (Unicode) of "टुक टुक करती चलती"


दूरी दर्द, मिलन है मस्ती, दुनिया मुझको देख के हंसती
इश्क मेरा बदनाम हो गया, करके तेरी हुस्न परस्ती

कोई जोगी, कोई कलंदर, रहता है अपने में
कोई भुला हुआ सिकंदर, रहता है अपने में
कोई जोगी, कोई कलंदर, रहता है अपने में
कोई भुला हुआ सिकंदर, रहता है अपने में

हो सजके दिखाएगी, हो हँस के बुलाएगी
हो रज के नचाएगी
टुक टुक टुक टुक करती चलती, थारी मारी ज़िन्दगी
रे बोले, रे बोले ढोल ढोल धड़क धिन
धड़क धिन, धड़क धिन
रे टुक टुक टुक टुक करती चलती, मीठी थारी ज़िन्दगी
रे बोले, रे बोले ढोल ढोल धड़क धिन
धड़क धिन, धड़क धिन

अपनी मर्ज़ी से बनती बिघडती, बनती बिघडती, बनती बिघडती
धुआ नहीं, आग नहीं फिर भी है जलती
ओए होए, ओए होए, ओए होए, ओए
अपनी मर्ज़ी से बनती बिघडती, बनती बिघडती, बनती बिघडती
धुआ नहीं, आग नहीं फिर भी है जलती
ओए होए, ओए होए, ओए होए, ओए

इट्स अ टेक डाउन
यू गोना हिट दी ग्राउंड हार्ड
बट लाइफ गेट्स यू हार्ड एंड धोबी पछाड़
व्हाट लविंग फाइटिंग ईंट फार अपार्ट
यू कैन लव दी फाइट बट
यू कांट फाइट यूअर हार्ट
अपनी मर्ज़ी से बनती बिघडती, बनती बिघडती, बनती बिघडती
धुआ नहीं, आग नहीं फिर भी है जलती
ओए होए, ओए होए, ओए होए, ओए

ग्राउंड स्टार्ट शकिंग
मेकिंग साउंड्स डेट्स यू शुड नोट बी मेकिंग
टेकिंग स्टेप्स आउट ऑफ़ यूअर कम्फर्ट जोन
एंड यूअर्स फिने तो फाइट मोस्ट यूअर बैरल्स अलोन
ओ तारे जैसी चल चल है, रेशम है या मलमल है,
या फिर गहरी दलदल है, जिंदगी या रा रा रा
दिन दिन घटती जाती है, फसल ये कटती जाती है
नज़र से हटती जाती है, ज़िन्दगी या रा रा रा

दिल समझे नहीं पतंदर, रहता है अपने में
बस बनता फिरे धुरंदर, रहता है अपने में
दिल समझे नहीं पतंदर, रहता है अपने में
बस बनता फिरे धुरंदर, रहता है अपने में
हो सजके दिखाएगी, हो हँस के बुलाएगी
हो राज के नचाएगी
टुक टुक टुक टुक करती चलती, थारी मारी ज़िन्दगी
रे बोले, रे बोले ढोल ढोल धड़क धिन
धड़क धिन, धड़क धिन
रे टुक टुक टुक टुक करती चलती, मीठी थारी ज़िन्दगी
रे बोले, रे बोले ढोल ढोल धड़क धिन
धड़क धिन, धड़क धिन

No comments:

Post a comment