2 July 2016

Lyrics Of "Allah Hu" From Latest Movie - Ardhangini - Ek Ardhsatya (2016)

Allah Hu
Allah Hu
A qawwali sung by Sukhwinder Singh and music composed by Dinesh Arjuna.

Singer: Sukhwinder Singh
Music: Dinesh Arjuna
Lyrics: Deepak Sneh
Star Cast: Subodh Bhave, Sreelekha Mitra, Subrat Dutt, Manoj Mitra, Reema Lagoo, Varsha Usgaonkar.



The video of this song is available on YouTube at the official channel Venus. This video is of 3 minutes 36 seconds duration.

Lyrics of "Allah Hu"


allah hu maula hu, maula hu, maula hu
har shay hai bezar yaha par, har shay hai bezar
har shay hai bezar yaha par, har shay hai bezar
jeewan ek saraye tere rehne, ke din chaar
ho jeewan ek saraye tere rehne, ke din chaar
allah hu maula hu, allah hu maula hu
allah hu maula hu, allah hu maula hu

hmm waqt banaye waqt mitaye, duniya ki tasveer
samay ke aage sab jhukte hai, raja rank fakeer
waqt banaye waqt mitaye, duniya ki tasveer
samay ke aage sab jhukte hai, raja rank fakeer
waqt ne jisko mara hai, wo kya bach payega
allah hu maula hu, allah hu maula hu
allah hu maula hu, allah hu maula hu

jeevan kya hai jeevan to ik dard ka kissa hai
tute se kuch sapne is jeevan ka hissa hai
jeevan kya hai jeevan to ik dard ka kissa hai
tute se kuch sapne is jeevan ka hissa hai
dukh me jo sukh dundhe wo naa pachhatayega re
allah hu maula hu, allah hu maula hu
allah hu maula hu, allah hu maula hu

andhiyare main kho jayenge chhaya nashavar hai
ore kitne jatan se sich raha tu kaya nashavar hai
andhiyare main kho jayenge chhaya nashavar hai
ore kitne jatan se sich raha tu kaya nashavar hai
rup rang hai dhalta baadal dhal jayega re
allah hu maula hu, allah hu maula hu
allah hu maula hu, allah hu maula hu
ho man panchhi ko barbas koi bandh na payega
bandh na payega
haai sone ka pinjara bhi usko kya bhehlayega
man panchhi ko barbas koi bandh na payega
sone ka pinjara bhi usko kya bhehlayega
tod ke pinjara ek din panchhi ud jayega re
allah hu maula hu, allah hu maula hu
allah hu maula hu, allah hu maula hu
allah hu maula hu, allah hu maula hu
allah hu maula hu



Lyrics in Hindi (Unicode) of "अल्लाह हु"


अल्लाह हु मौला हु, मौला हु, मौला हु
हर शे है बेजार यहाँ पर, हर शे है बेजार
हर शे है बेजार यहाँ पर, हर शे है बेजार
जीवन एक सराए तेरे रहने, के दिन चार
हो जीवन एक सराए तेरे रहने, के दिन चार
अल्लाह हु मौला हु, अल्लाह हु मौला हु
अल्लाह हु मौला हु, अल्लाह हु मौला हु

हम्म वक़्त बनाये वक़्त मिटाए, दुनिया की तस्वीर
समय के आगे सब झुकते है, राजा रंक फ़कीर
वक़्त बनाये वक़्त मिटाए, दुनिया की तस्वीर
समय के आगे सब झुकते है, राजा रंक फ़कीर
वक्त ने जिसको मारा है, वो क्या बच पायेगा
अल्लाह हु मौला हु, अल्लाह हु मौला हु
अल्लाह हु मौला हु, अल्लाह हु मौला हु

जीवन क्या है जीवन तो इक दर्द का किस्सा है
टूटे से कुछ सपने इस जीवन का हिस्सा है
जीवन क्या है जीवन तो इक दर्द का किस्सा है
टूटे से कुछ सपने इस जीवन का हिस्सा है
दुःख में जो सुख ढूंढे वो ना पछतायेगा रे
अल्लाह हु मौला हु, अल्लाह हु मौला हु
अल्लाह हु मौला हु, अल्लाह हु मौला हु

अंधियारे मैं खो जायेंगे छाया नशवर है
ओरे कितने जतन से सिच रहा तू काया नशवर है
अंधियारे मैं खो जायेंगे छाया नशवर है
ओरे कितने जतन से सिच रहा तू काया नशवर है
रूप रंग है ढलता बादल ढल जायेगा रे
अल्लाह हु मौला हु, अल्लाह हु मौला हु
अल्लाह हु मौला हु, अल्लाह हु मौला हु

हो मन पंछी को बरबस कोई बांध ना पायेगा
बांध ना पायेगा
हाई सोने का पिंजरा भी उसको क्या बेहलायेगा
मन पंछी को बरबस कोई बांध ना पायेगा
सोने का पिंजरा भी उसको क्या बेहलायेगा
तोड़ के पिंजरा एक दिन पंछी उड़ जायेगा रे
अल्लाह हु मौला हु, अल्लाह हु मौला हु
अल्लाह हु मौला हु, अल्लाह हु मौला हु
अल्लाह हु मौला हु, अल्लाह हु मौला हु
अल्लाह हु मौला हु

No comments:

Post a comment