10 September 2016

Lyrics Of "Tragedy Mein Comedy" From Latest Album - Tragedy Mein Comedy (2016)

Tragedy Mein Comedy
Tragedy Mein Comedy
A rock song sung, composed and written by Naezy on the situation of our country.

Singer: Naezy
Music: Naezy
Lyrics: Naezy
Features: Naezy






The video of this song is available on YouTube at the channel Naezy TV. This video is of 2 minutes 48 seconds duration.

Lyrics of "Tragedy Mein Comedy"


desh ki haalat bahuti funny hain
hasne ke alaawa bacha nahi kuch aur
tragedy jo rahi hai, ek ich hai cure
roke bahot dekhe, chalo haske dekhe thoda
tujhko jab bhi mile topa, thoda muskura ke dekh lona
tragedy me comedy, tragedy me comedy

suraj ki pehli kiran jab nikli aasmaan se
yaha zameen pe jurm jaari kaali raat beeti
bil se bhaagi saari chiti haathi ko sataane
baat maane toh maza jo na maane lo saza, do jurmaane oh
sukh ko dhunde dhukh mile, na kar sake phir kuch bhi kyu
chain shaanti na mil sake, na jal sake diya yeh dil ka
chal safed karte kaalaapan, roshni kaha hai dil me
kaala dhan kaha hai bil me, bil me saap hai

baasuri bajaake chaahte laake dega waapas
jhaake bil se aise jaise kaat lega aakar
nok waale daat hai iske, bhot kaale raaz hai chhupte
chubhte kaate roz khilte, dosh daale jaane kispe
dhad sadak par sar zameen pe har kisi ko ghar nahi
aadhi roti maujood hai, aadhe ki khabar nahi
insaaniyat nazar nahi, aazad panchi par nahi
aawaaz kabse pal rahi, aelaan karde dar nahi

hasne ke alaawa bacha nahi kuch aur
tragedy jo rahi hai, ek ich hai cure
roke bahot dekhe, chalo haske dekhe thoda
tujhko jab bhi mile topa, thoda muskura ke dekh lona
tragedy me comedy, tragedy me comedy

ek masla nahi yaha masle toh hazaar hai
har din naye masle yaha maslo ka bhandaar hai
maslo ko suljhaane waale pe hi atyaachaar hai
koshishe bekaar hai, jhuti samachaar hai
sarkaari vaade kasme jhute dhoke me awwaam hai
naari ghar par jaari uska apharan bhi aam hai
garib bichare piste jaare, rakshak bakshak ek samaan
ab kya karega aam insaan

hasne ke alaawa bacha nahi kuch aur
tragedy jo rahi hai, ek ich hai cure
roke bahot dekhe, chalo haske dekhe thoda
tujhko jab bhi mile topa, thoda muskura ke dekh lona
tragedy me comedy, tragedy me comedy


Lyrics in Hindi (Unicode) of "ट्रेजेडी में कॉमेडी"


देश की हालत बहुती फनी हैं
हसने के अलावा बचा नहीं कुछ और
ट्रेजेडी जो रही हैं, एक इच हैं क्योर
रोके बहोत देखे, चलो हसके देखे थोडा
तुझको जब भी मिले तोपा, थोडा मुस्कुरा के देख लोना
ट्रेजेडी में कॉमेडी, ट्रेजेडी में कॉमेडी

सूरज की पहली किरण जब निकली आसमान से
यहाँ ज़मीन पे जुर्म जारी काली रात बीती
बिल से भागी सारी चीटी हाथी को सताने
बात माने तो मज़ा जो ना माने लो सजा, दो जुर्माने ओह
सुख को ढूंढें दुख मिले, ना कर सके फिर कुछ भी क्यूँ
चैन शांति ना मिल सके, ना जल सके दिया ये दिल का
चल सफ़ेद करते कालापन, रौशनी कहा हैं दिल में
काला धन कहा हैं बिल में, बिल में सांप हैं

बांसुरी बजाके चाहते लाके देगा वापस
झांके बिल से ऐसे जैसे काट लेगा आकर
नोक वाले दांत हैं इसके, बहोत काले राज हैं छुपते
चुभते कांटे रोज़ खिलते, दोष डाले जाने किसपे
धड सड़क पर सर ज़मीन पे हर किसी को घर नहीं
आधी रोटी मौजूद हैं, आधे की खबर नहीं
इंसानियत नज़र नहीं, आज़ाद पंछी पर नहीं
आवाज़ कबसे पल रही, ऐलान करदे डर नहीं

हसने के अलावा बचा नहीं कुछ और
ट्रेजेडी जो रही हैं, एक इच हैं क्योर
रोके बहोत देखे, चलो हसके देखे थोडा
तुझको जब भी मिले तोपा, थोडा मुस्कुरा के देख लोना
ट्रेजेडी में कॉमेडी, ट्रेजेडी में कॉमेडी

एक मसला नहीं यहाँ मसले तो हज़ार हैं
हर दिन नए मसले यहाँ मसलो का भंडार हैं
मसलो को सुलझाने वाले पे ही अत्याचार हे
कोशिशे बेकार हैं, झूठी समाचार हैं
सरकारी वादे कसमे झूठे धोके में अव्वाम हैं
नारों घर पर जारी उसका अपहरण भी आम हैं
गरीब बिचारे पिसते जारे, रक्षक बक्षक एक समान
अब क्या करेगा आम इन्सान

हसने के अलावा बचा नहीं कुछ और
ट्रेजेडी जो रही हैं, एक इच हैं क्योर
रोके बहोत देखे, चलो हसके देखे थोडा
तुझको जब भी मिले तोपा, थोडा मुस्कुरा के देख लोना
ट्रेजेडी में कॉमेडी, ट्रेजेडी में कॉमेडी

No comments:

Post a comment